211 Beneficiaries will soon get house in Kanpur कानपुर में 211 लाभार्थियों को जल्द मिलेगा पक्का घर

कानपुर : झोपड़ी या कच्चे घरों में रहने वाले गरीब परिवारों का पक्की छत का सपना जल्द पूरा होगा। कोविड की दूसरी लहर की वजह से आवासों की चाभी का वितरण नहीं हो सका। हालात अब सुधरने की उम्मीद जताई जा रही है। इस पर डूडा 211 लाभार्थियों को पक्का घर देने की तैयारी कर रहा है।

कांशीराम शहरी गरीब आवास योजना के तहत झींझक में 400 फ्लैट बने हैं। वहीं रसूलाबाद में 216 आवास बनाए गए हैं। झींझक में आवास आवंटन के लिए 150 लाभार्थियों का चयन पूर्व में करा लिया गया है। सत्यापन भी हो गया है। अब आवासों की चाभी देना बाकी है।

Beneficiaries will soon get house in Kanpur

वहीं रसूलाबाद में 61 लाभार्थियों को आवास दिया जाना है। कोविड-19 के चलते आवास आवंटन नहीं किया जा सका। अब फिर से लाभार्थियों को आवास आवंटन की तैयारी हो रही है। माती स्थिति डूडा कार्यालय में आवंटन पत्र बनाने का काम शुरू हो गया है।

झोपड़ी या कच्चे मकान में रहने वाले गरीब परिवारों का चयन कर लिया गया है। कोविड की वजह से आवास आवंटन नहीं हो सका। अब तैयारी की जा रही है। तारीख तय होने पर आवंटन प्रमाण पत्र लाभार्थियों को दिए जाएंगे। - हर्ष अरविंद, पीओ डूडा

झींझक में 210 गरीबों को मिल चुके आवास

कांशीराम आवासों में झींझक के 210 पात्रों को पूर्व में घर दिए जा चुके हैं। पहले चक्र में 112 व दूसरे चक्र में 98 लोगों को पक्का घर दिया गया। वहीं रसूलाबाद में 114 लाभार्थियों को आवास दिए गए हैं।

बारिश से पहले मिले आवास

लाभार्थी बारिश से पहले आवास चाहते हैं। उनका कहना है कि बारिश शुरू हो गई और आवास नहीं मिला तो झोपड़ी व कच्चे मकान में दिक्कत उठानी पड़ेगी। घर गिरी का खतरा भी रहता है। झींझक के श्रीनगर की खातून बेगम, शंकर गंज के राधेश्याम, द्वारिकागंज की बबली और सम्राट अशोक नगर की सोनी कहती हैं कि काफी दिनों से पक्का मकान मिलने की आस लगाए हैं। अफसर कई बार पूछताछ और जांच कर गए हैं। बारिश से पहले आवास मिल जाए यही उम्मीद लगाए हैं।

Source: https://www.amarujala.com

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे। 
*****