CIDCO launches 7,849 affordable flats in Navi Mumbai मुंबई  वाशी के लिए खुशखबरी सिडको ने नवी मुंबई में 7,849 फ्लैटों की सामूहिक आवास योजना शुरू की

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने एक दिवाली उपहार के रूप में सोमवार को उपनगर नवी मुंबई में समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो के लिए के लिए 7,849 किफायती फ्लैटों की एक सामूहिक आवास योजना की शुरुआत की।

मुंबई  वाशी के लिए खुशखबरी
इसे सिटी इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ महाराष्ट्र लिमिटेड (सिडको) द्वारा मुख्य भूमि पर नवी मुंबई में उल्वे नोड में बामडोंगरी और खार्कोपर पूर्व में एक पारगमन उन्मुख योजना के तहत विकसित किया जाएगा।

उल्वे नोड बेलापुर और नेरुल के निकट स्थित है और आगामी नवी मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे के आसपास है, आधिकारिक तौर पर डीबी पाटिल अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे का नाम बदल दिया गया है।

शिंदे ने मेगा-टाउनशिप परियोजना के शुभारंभ पर कहा, सिडको देश में विभिन्न आर्थिक तबके के लोगों को किफायती आवास उपलब्ध कराने वाली अग्रणी कंपनी है।
उन्होंने कहा कि दिवाली त्योहार के अवसर पर, यह नवी मुंबई में एक किफायती घर के लिए कई लोगों के सपनों को पूरा करेगा और क्षेत्र के विकास को गति देगा।

सिडको के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक डॉ. संजय मुखर्जी ने कहा, दिवाली के अवसर पर सिडको के नवी मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे जैसी महत्वाकांक्षी परियोजनाओं के साथ, उल्वे नोड को भविष्य में बड़े पैमाने पर महत्व मिलेगा। अच्छी तरह से जुड़े उल्वे नोड में एक घर के मालिक होने का अवसर सिडको द्वारा शुभ अवसर पर शुरू की गई इस सामूहिक आवास योजना के माध्यम से आया है।

नवी मुंबई के तेजी से विकासशील क्षेत्र उल्वे नोड को भी परिवहन सुविधाओं के माध्यम से अच्छी कनेक्टिविटी मिली है, जबकि सामूहिक आवास योजना के तहत नए आवास परिसरों को भी नेरुल-उरण रेल कॉरिडोर पर बामनडोंगरी और खारकोपर रेलवे स्टेशनों के माध्यम से समान लाभ मिलेगा।

इसके अलावा, आगामी प्रस्तावित मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक (एमटीएचएल) उल्वे नोड के साथ-साथ क्षेत्र में भी कनेक्टिविटी प्रदान करेगा। इससे टाउनशिप, स्कूलों, कॉलेजों, अस्पतालों आदि का नियोजित विकास होगा।

Source: https://www.newstodaynetwork.com

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****