लैंडलाइन, फीचर फोन और Jio Phone पर ऐसे इस्तेमाल करें Arogya Setu App

लैंडलाइन, फीचर फोन और Jio Phone पर ऐसे इस्तेमाल करें आरोग्य सेतु ऐप How to use Arogya Setu App on landline, feature phone and Jio Phone
Arogya Setu App
कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में आरोग्य सेतु ऐप काफी मददगार साबित हो रहा है, क्योंकि इससे कोरोना वायरस संक्रमण को ट्रैक किया जाता है। पिछले महीने ही सरकार ने कोरोना के संक्रमण को ट्रैक करने के लिए यह आरोग्य सेतु ऐप लॉन्च किया था। यह एप्प फीचर, लैंडलाइन और जियो फोन यूजर्स के लिए भी उपलब्ध हो गया है। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने हाल ही में घोषणा की है कि Jio Phone यूजर्स भी अब आरोग्य सेतु ऐप भी इंस्टॉल कर सकते हैं। आरोग्य सेतु ऐप्प को देश में 100 मिलियन डाउनलोड किया जा चुका है और सरकार के इस पहल के बाद संभावना है कि Jio Phone यूजर्स इसकी संख्या में बड़ा इजाफा करेंगे क्योंकि करीब 50 मिलियन लोग इस फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं।

[post_ads_2]

जियो फोन पर लॉन्चिंग के अलावा, सरकार ने फीचर फोन और लैंडलाइन यूजर्स के लिए भी आरोग्य सेतु ऐप के इस्तेमाल करने की सुविधा दे दी है। अब तक यह ऐप ऐंड्रॉयड व आईओएस प्लैटफॉर्म के लिए उपलब्ध था, मगर अब KaiOS पर भी होगा, क्योंकि जियो फोन में यही होता है। तो चलिए जानते हैं कि कहां कैसे डाउनलोड करें और कैसे इस्तेमाल करें...

जियो फोन में आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड करें और यूज करें
पहला स्टेप- पहले आपको जियो स्टोर पर चेक करना होगा और अपने फोन में आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड करना होगा। 
दूसरा स्टेप- जियो फोन में आरोग्य सेतु ऐप इंस्टॉल करने के बाद आपको ऐप्प में अकाउंट बनाना होगा। इसके लिए आपको अपना मोबाइल नंबर और ब्लूटूथ कनेक्शन व लोकेशन का ऐक्सेस ऐप को देना होगा। बता दें कि ऐप को इस्तेमाल करने के लिए जीपीएस और ब्लूटूथ ऐक्सिस की जरूरत पड़ती है।
तीसरा स्टेप- ये सारी प्रक्रिया पूरी करने के बाद अब आप ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं हैं और कोरोना के खतरे की जांच कर सकते हैं और उसे अपने आस-पास ट्रैक कर सकते हैं। 

लैंडलाइन और फीचर फोन पर आरोग्य सेतु ऐप कैसे यूज करें
पहला स्टेप- सबसे पहले आपको 1921 पर मिस्ड कॉल देना होगा। 
दूसरा स्टेप- इसके बाद आपको एक फोन आएगा और आपको अपने हेल्थ स्टेटस के बारे में बताना होगा। 
तीसरा स्टेप- ये सारी जानकारी देने के बाद आपको स्वास्थ्य अधिकारियों की ओर से एक मैसेज आएगा, जिसमें कई उपाय बताए गए होंगे। 

[post_ads]

देशभर में IVRS (Interactive Voice Response System) सर्विस उपलब्ध है और यह 11 भाषाओं में है। सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए यह ऐप अनिवार्य कर दिया गया है। इतना ही नहीं, सरकार ने सभी नागरिकों के लिए भी इसे अनिवार्य कर दिया है। ट्रेन में सफर करने के दौरान भी इस ऐप को मेंडेटरी बनाया गया है। 

Source:https://www.livehindustan.com

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे। 
*****

Comments