How to download Aarogya Setu App आरोग्‍यसेतु ऐप कैसे डाउनलोड करे

How to download Aarogya Setu App आरोग्‍यसेतु ऐप कैसे डाउनलोड करे 
How+to+install+aarogya+setu+app
सरकार ने कोविड-19 का दृढ़ता से मुकाबला करने के लिए भारत के लोगों को एकजुट करने के उद्देश्‍य से सार्वजनिक-निजी साझेदारी से विकसित एक मोबाइल ऐप की शुरुआत की है। ‘आरोग्‍यसेतु’ नाम का यह ऐप प्रत्‍येक भारतीय के स्वास्थ्य और कल्याण के लिए डिजिटल इंडिया से जुड़ा है। यह लोगों को कोरोना वायरस का संक्रमण पकड़ने के जोखिम का आकलन करने में सक्षम करेगा। यह अत्याधुनिक ब्लूटूथ टेक्‍नोलॉजी, तकनीक, गणित के सवालों को हल करने के नियमों की प्रणाली (अलगोरिथ्म) और कृत्रिम बुद्धिमत्ता का उपयोग करते हुए, दूसरों के साथ उनकी बातचीत के आधार पर इसकी गणना करेगा।

[post_ads]

इसके लिए आप को कुछ आसान सी ऑनलाइन प्रक्रिया को पूरा करना होगा
  • सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन के प्ले स्टोर मे जाना होगा। 
  • प्ले स्टोर मे जाने के बाद  AAROGYA SETU  इनस्टॉल  करें। 
  •  इनस्टॉल होने के बाद उसे ओपन करें। 
  • जिसके बाद, एक नया वेब पेज खुलेगा। जहां पर आप को अपनी भाषा का चयन करना होगा।  
  • इसके बाद दिए गये निर्देश को ध्यान से पड़े। 
  • इसके बाद REGISTER NOW पर क्लिक करें। 
  • इसके बाद आपको अपने फोन का BLUETOOTH  और DEVICE LOCATION ओपन करने का PERMISSION देना होगा। इसके लिए I AGREE पर क्लिक करें। 
  • जिसके बाद, एक नया वेब पेज खुलेगा। जहां पर आप को अपना MOBILE NUMBER दर्ज करने के बाद SUBMIT  पर क्लिक करें। 
  • फिर आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP आयेगा। 
  • इसके बाद एक नया वेब पेज खुलेगा। जहां पर आप को अपनी PERSONAL DETAILS देनी होगी। 
  • इसके बाद ओके बटन पर क्लिक करें। 
  • अब आप APP पर देख सकते है कि आप सेफ है या नहीं। 
अब आप COVID - 19 Helpcenters पर फोन कर इसकी जानकारी प्राप्त कर सकते है।  इस APP के द्वारा आप SELF ASSESSMENT TEST कर ये जान सकते हैं की आप सेफ है या नहीं। ऐप का डिज़ाइन सबसे पहले गोपनीयता सुनिश्चित करता है। ऐप द्वारा एकत्र किए गए व्यक्तिगत डेटा को अत्याधुनिक तकनीक का उपयोग करके एन्क्रिप्ट किया गया है और डेटा चिकित्सा सम्‍बन्‍धी सुविधा की आवश्‍यकता पड़ने तक फोन पर सुरक्षित रहता है।

सरकार ने 'आरोग्य सेतु'  मोबाइल एप लॉन्च किया है और इस एप को अब तक 30 लाख लोग डाउनलोड कर चुके हैं।  स्वास्थ्य मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने बताया कि अगर आपने यह एप डाउनलोड कर रखी है तो कोरोना पॉजिटिव शख्स के संपर्क में आते ही यह आपको सूचित करेगी। उन्होंने कहा कि सबकी सेफ्टी से आपकी और आपकी सेफ्टी से सबकी सेफ्टी होगी।

[post_ads_2]


यदि कोई व्यक्ति इलाज के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित पाया जाता है तो संक्रमित व्यक्ति का मोबाइल नंबर स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बनाए गए रजिस्टर में शामिल होगा और एप पर भी इस सूचना को अपडेट किया जाएगा। इस एप से कोविड -19 संक्रमण के जोखिम का आकलन करने और आवश्यक होने पर संबंधित व्यक्ति अथवा क्षेत्र को दूसरे लोगों अलग करने (क्वारंटाइन ) करने के लिए सरकार को समय पर कदम उठाने में मदद मिलेगी। सरकार ने कहा कि एप में उपयोगकर्ताओं की जानकारी किसी से साझा नहीं की जाएगी और प्राइवेसी का पूरा ख्याल रखा जाएगा।


ऐप कोविड-19 संक्रमण के प्रसार के जोखिम का आकलन करने और आवश्यक होने पर एकांतवास सुनिश्चित करने के लिए सरकार के समय पर कदम उठाने में मदद करेगा।

जब आप कभी बाहर जाते है और आपके आस -पास कोई संक्रमित आदमी होगा तो APP इसकी जानकारी देगी।

Source : PIB  


नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे
*****

Comments

This week popular schemes

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची। ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम ?

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

Uttar Pradesh Shramik Card Online Registration 2020 उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण 2020

भारत का दबाव कर गया काम, ब्रिटेन ने कोविशील्ड वैक्सीन को मान्यता दी

Union Bank of India Online Account Opening

Exemption of Examination Fees for the Students who have lost their parents due to COVID

Hostels in Navodaya Vidyalayas , State/UT-wise details of construction of hostels in Jawahar Navodaya Vidyalayas

HP Mukhyamantri Kanyadan Yojana 2020 मुख्‍यमंत्री कन्यादान योजना हिमाचल प्रदेश

BSSC : Mines Inspector Recruitment 2021

Appointment of Vice-Chancellor of Banaras Hindu University काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के कुलपति की नियुक्ति हेतु पुनविज्ञापन