Uttar Pradesh MSME ऑनलाइन लोन मेला रजिस्ट्रेशन

Uttar Pradesh MSME ऑनलाइन लोन मेला रजिस्ट्रेशन 

केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए आर्थिक पैकेज के  घोसना के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में एमएसएमई क्षेत्र के 56 हजार से अधिक उद्यमियों के लिए MSME साथी पोर्टल और Mobile App लॉन्च कर दिया है। जहां पर राज्य के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम लोन मेला के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं। MSME साथी पोर्टल और Mobile App की लोंचिंग के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 56 हजार 754 उद्यमियों को एकमुश्त दो हजार करोड़ के लोन भी बांटे। UP लोन मेला का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन diupmsme.upsdc.gov.in पोर्टल पर या फिर MSME साथी App पर आसानी से किया जा सकता है।

[post_ads]

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अनुसार एमएसएमई लोन मेला में ऑनलाइन पंजीकरण करने से राज्य के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम को उभारने में बहुत मदद मिलेगी। उन्होने यह भी बताया की MSME साथी पोर्टल और Mobile App को लॉन्च करने का निर्णय पहले ही ले लिया था जिससे राज्य के उद्योगों को स्वदेशी उत्पाद बनाने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।
Uttar+Pradesh+MSME
गौरतलब है की MSME साथी पोर्टल और Mobile App लॉन्च करने के साथ उत्तर प्रदेश में लोन मेला के ऑनलाइन पंजीकरण ऐसे समय पर शुरू हुए हैं जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल ही आत्मनिर्भर भारत अभियान 2020 की शुरुआत करी है जिससे स्वदेशी को बढ़ावा दिया जा सके।

इस लेख से सम्बंधित कुछ मुख्य बातें। 
  • MSME साथी पोर्टल – लोन मेला ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2020
  • उत्तर प्रदेश लोन मेला पंजीकरण – Required Documents
  • UP MSME लोन मेला पात्रता
  • उत्तर प्रदेश लोन मेला मुख्य उद्देश्य
MSME साथी पोर्टल – लोन मेला ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2020

MSME साथी पोर्टल पर सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम कैसे लोन मेला के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, लोन मेला में ऑनलाइन पंजीकरण करने की पूरी प्रक्रिया निम्न्लिखित है:
  • इच्छुक उद्यमी उत्तर प्रदेश के उद्योग एवं प्रोत्साहन निदेशालय के आधिकारिक पोर्टल http://diupmsme.upsdc.gov.in पर जा सकते हैं।
  • होमपेज पर “लॉग इन” के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद “आवेदक लॉग इन” पर क्लिक करना है। 
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जहां पर “नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण” के विकल्प का चयन करना है। 
  • नवीन पंजीकरण पर क्लिक करने के बाद उत्तर प्रदेश लोन मेला ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म 2020 खुल जाएगा। 
  • MSME लोन मेला में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी भर कर नीचे दिये “Submit” के बटन पर क्लिक करना है। जिसके बाद आपकी लोन से जुड़ी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
उत्तर प्रदेश लोन मेला अथवा एमएसएमई साथी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने हेतु कुछ मुख्य निर्देश हैं :-
  • सर्वप्रथम आवेदक ऑनलाइन आवेदन हेतु पोर्टल (https://diupmsme.upsdc.gov.in) पर उपलब्ध लॉगिन आवेदक लॉगिन ऑप्शन में जाकर , उपलब्ध लिंक "नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण " के माध्यम से अपना रजिस्ट्रशन प्रारम्भ करेगा।
  • इसके बाद पोर्टल पर एक नया पॉपअप पेज खुलेगा जिस पर आवेदक समस्त फ़ील्ड्स को भरेगा जिसमे योजना का नाम (जिस योजना में आवेदन करना है), आवेदक का नाम ,जन्मतिथि ,पिता का नाम , मोबाइल नंबर ,ईमेल , एवं जिला का नाम , सुरक्षा कोड (कैप्चा) सम्मलित है।
  • यदि आवेदक पूर्व में रजिस्ट्रेशन कर चुका है तो उसको पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन में सीधे आकर क्रम संख्या २ से प्राप्त उपयोगकर्ता आई. डी., पासवर्ड एवं कैप्चा की प्रविष्टि करने के बाद लॉगिन बटन क्लिक करेगा।
  • इसके बाद आवेदक अपना पासवर्ड बदलेगा तथा पुनः पोर्टल के लॉगिन पेज पर जाकर अपनी यूजर आई डी एवं नए पासवर्ड के साथ लॉगिन करेगा |
  • आवेदक पोर्टल पर उपलब्ध योजनाओं पर लगने वाले समस्त अनिवार्य संलग्कों कि सूची को "ऑनलाइन लाभार्थीपरक योजना हेतु महत्वपूर्ण निर्देश" में आ रही सम्बंधित योजना को क्लिक करके प्राप्त कर सकता है |
  • आवेदक द्वारा अपलोड किये जाने वाले समस्त संलग्नक सही एवं स्पष्ट रूप से दिखने चाहिए। यदि संलग्नक स्पष्ट रूप से अपलोड नहीं किये गए तो ऐसे आवेदनो को आवेदक को पुनः अपलोड करने के लिए पोर्टल पर वापस कर दिया जायेगा। अन्यथा की स्थिति में आवेदन निरस्त किया जा सकता है।
  • आवेदक ई-फार्म में प्रविष्टि (एंट्री) करने से पूर्व यह सुनिश्चित करेगा कि उसमें लगने वाले समस्त आवश्यक दस्तावेजों/संलग्रकों कि स्कैन्ड कॉपी (JPEG/PDF) जिसका साइज 300 KB या उससे कम हो ,तथा पासपोर्ट साइज का नवीनतम फोटो जिसका साइज 20 KB या उससे कम हो , उसके पास उपलब्ध हो।
  • इसके बाद आवेदक ई-फॉर्म (ऑनलाइन आवेदन ) को निम्न तीन स्टेप्स में भरेगा। 
  • आवेदक ई-फॉर्म (ऑनलाइन आवेदन ) में उपलब्ध सभी फ़ील्ड्स में प्रविष्टि करेगा ।
  • योजना के अनुरूप सभी संलग्नक ( डाक्यूमेंट्स ) को अपलोड करना।
  • शपथ पत्र (यदि योजना में आवश्यक हो) का प्रिंट आउट निकाल कर नोटरी से सत्यापित प्रति को अपलोड करना। 
  • इसके बाद आवेदक आवेदन कि ड्राफ्ट कॉपी का प्रिंट आउट लेकर सभी प्रविष्टियों की समुचित जाँच कर लें , यदि आवेदन में किसी प्रकार कि त्रुटि हो तो उसे सम्बंधित ऑप्शन में जाकर ठीक कर ले।
  • आवेदक द्वारा अपलोड किये गए समस्त संलग्नक सही एवं स्पष्ट रूप से पोर्टल पर दिखने चाहिए।
  • इसके बाद आवेदन कि प्रति ऑप्शन में जाकर फाइनल सबमिट कर दे। एक बार फाइनल सबमिट कर देने के बाद आवेदन को संशोधित नहीं किया किया जा सकता |
  • आवेदन को फाइनल सबमिट करने के बाद ,आवेदन की प्रति का प्रिंटआउट निकाल ले ।
  • आवेदक आवेदन कि अद्यतन स्थिति को पोर्टल पर उपलब्ध " आवेदन स्थिति " पर आवेदन संख्या अंकित कर प्राप्त कर सकता है।
लोन मेला में ऑनलाइन पंजीकरण करने के पीछे राज्य सरकार का सबसे बड़ा उद्देश्य भारत देश में अब सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों को पूरी क्षमता के साथ उभारना है जिससे देश में आयात कम किया जा सके और निर्यात को बढ़ावा दिया जा सके। इससे होगा ये की विश्व स्तर पर भारत देश एक औद्योगिक शक्ति बन कर उभरेगा और इसी की बात प्रधानमंत्री ने भी कल देशवासियों को सम्बोधन देते समय करी थी की अब हमें ‘Vocal for Local’ अभियान का हिस्सा बनना है।

केन्द्र से आर्थिक पैकेज के ऐलान के बाद लॉकडाउन में इतनी बड़ी धनराशि का कर्ज देने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने एक क्लिक पर आनलाइन 2 हजार 2 करोड़ रुपये का कर्ज देकर रोजगार संगम ऑनलाइन मेले की व्यापक शुरूआत करी। एमएसएमई क्षेत्र में उत्पादन बढ़ने से हर साल लगभग दो लाख लोगों को रोजगार भी मिलेगा। जिससे बेरोजगारी की समस्या भी खत्म हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश लोन मेला पंजीकरण – Required Documents

UP में MSME लोन मेला के लिए ऑनलाइन आवेदन करने से पहले आवेदक के पास निम्न्लिखित दस्तावेज होने चाहिए:
  • आधार कार्ड (Aadhaar Number)
  • पैन कार्ड (PAN Card)
  • बैंक खाते की पासबुक
  • प्रोजेक्ट प्लान की पूरी समरी
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • शैक्षणिक योग्यता
  • आयु प्रमाण
[post_ads_2]

UP MSME लोन मेला पात्रता

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम के लिए लोन लेने से पहले वे यह देख लें की उनके पास निम्न्लिखित पात्रता है या नहीं:
  • उद्योग कुछ समय पहले से ही चल रहा है मतलब बंद पड़े उद्योग के लिए लोन नहीं दिया जाएगा।
  • सालाना टर्नओवर निर्धारित राशि से ज्यादा होना चाहिए (जिसकी घोषणा होनी अभी बाकी है)
  • ट्रस्ट, गैर सरकारी संगठन और धर्मार्थ संस्थान इस लोन योजना के लिए पात्र नहीं हैं।
  • उद्यम ब्लैकलिस्टेड कंपनियों की सूची में नहीं होना चाहिए।
उत्तर प्रदेश लोन मेला मुख्य उद्देश्य

मुख्यमंत्री ने बताया की देश का सबसे बड़ा एमएसएमई सेक्टर यूपी में है। कोरोना महामारी के दौरान ही यूपी में पीपीई किट की 26 इकाइयां खडी हुईं हैं। छोटी बड़ी मिलाकर उत्तर प्रदेश में लगभग 90 लाख एमएसएमई इकाईयां हैं। प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री उद्यमियों के लिए सिंगल विंडो सिस्टम के जरिए हर हाथ को रोजगार देने के महाभियान में जुट गये हैं।

इस अवसर पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम कामगारों व श्रमिकों को यूपी की ताकत बनाएंगे। इसी कारण हम कामगारों व श्रमिकों की स्किलिंग की स्केलिंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में करीब 25 लाख प्रवासी मजदूर आएंगे। प्रवासी मजदूरों की क्षमता का लाभ उठाएंगे। हमारे पास अब तक लगभग 12 लाख प्रवासी मजदूर आ चुके हैं, 10 लाख प्रवासी मजदूर अभी और आने वाले हैं। इनमें ड्राइवर, प्लंबर, टेलर, अलग-अलग क्षेत्र में काम करने वाले बहुत अच्छे कौशल के लोग हैं।

Source : http://diupmsme.upsdc.gov.in/

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****

Comments