8th National Conference of Women in Police in Ranchi पुलिस में महिलाओं के बारे में 8वें राष्ट्रीय सम्मेलन का रांची में आयोजन

The 8th National Conference of Women in Police (NCWP) will begin in Ranchi, Jharkhand today. The two-day conference which is being organized by Bureau of Police Research & Development in collaboration with Jharkhand Police, is the only national level platform to address the issues of Women in uniform and create an enabling atmosphere for them to maximize and optimize their professional potential.
women+police
During the Conference following Topics will be deliberated upon: 
  • Unheard voices of Women in CAPF/Force – Gender neutral working places. 
  • Technology for skills enhancement. 
  • Empowered work space for conducive work environment. 
  • Role of Women Police in Smart Cities. 
  • Women in Community Oriented policing. 
  • Special Training Needs for Women personnel. 
  • Sexual harassment at work places - Varied perspective and management. 
Eminent speakers like Justice Gyansudha Mishra, Former Judge, Supreme Court, Dr G K Goswami, IPS, Jt Director CBI , Mrs Shubhrata Prakash, Addl CIT, New Delhi and Mrs Rekha Sharma, Chairperson, National Women Commission would be deliberating / participating during the conference. In addition to them, many other experts would be deliberating during the conference.

It was a long felt need to have an Empowered Body which shall deal with capacity building of women police personnel and provide adequate exposure in the core police functions for achieving absolute professionalism. NCWP has unfolded as a total solution for accomplishing this goal. The debut to augment this effort was made in 2002 by organizing the 1st edition of NCWP in New Delhi by BPR&D in collaboration with Delhi Police. Women Police personnel cutting across different ranks, from across states / UTs and CPOs enthusiastically participated in the conference to have their voices heard, which have been usually and traditionally dominated by the male members.

NCWP has been continuously working on strengthening and monitoring of mechanism to deal with sexual harassment in all the Police Organizations / CPOs by suggesting active ways and means. Sincere efforts have been made for issues related with gender sensitization for all police ranks, exclusive infrastructural development for women police like rest rooms, toilets, crèche etc., equal opportunities for women in career planning and other welfare measures like maternity and child care leave, police housing for women workforce etc.

पुलिस में महिलाओं के बारे में 8वें राष्ट्रीय सम्मेलन का रांची में आयोजन 

पुलिस में महिलाओं के बारे में 8वां राष्ट्रीय सम्मेलन (एनसीडब्ल्यूपी) आज रांची, झारखंड में शुरू होगा। पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो झारखंड पुलिस के सहयोग से इस दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन कर रहा है। यह सम्मेलन महिला पुलिस के मुद्दों का समाधान करने और उनकी व्यावसायिक दक्षता को अधिक से अधिक बढ़ाने तथा अनुकूल बनाने के लिए एक सक्षम माहौल तैयार करने वाला राष्ट्रीय स्तर का एक मात्र मंच है।
women+police
सम्मेलन के दौरान निम्नलिखित विषयों पर विचार-विमर्श किया जाएगा:
  • सीएपीएफ / पुलिस बल में महिलाओं की अनसुनी आवाज- लिंग भेदभाव रहित कार्य स्थल।
  • कौशल वृद्धि के लिए प्रौद्योगिकी।
  • अनुकूल कार्य माहौल के लिए सशक्त कार्य स्थल।
  • स्मार्ट शहरों में महिला पुलिस की भूमिका।
  • समुदाय जनित पुलिस व्यवस्था में महिलाएं।
  • महिला पुलिस कर्मियों के लिए विशेष प्रशिक्षण की जरूरत।
  • कार्यस्थलों पर यौन उत्पीड़न - विभिन्न परिप्रेक्ष्य और प्रबंधन।
उच्चतम न्यायालय की पूर्व न्यायाधीश, न्यायमूर्ति ज्ञानसुधा मिश्रा, सीबीआई के संयुक्त निदेशक डॉ. सी.के. गोस्वामी, आईपीएस, अतिरिक्त सीआईटी, नई दिल्ली श्रीमती शुभ्रता प्रकाश और राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती रेखा शर्मा जैसे प्रसिद्ध वक्ता इस सम्मेलन में भागीदारी कर रहे हैं। इसके अलावा अन्य विशेषज्ञ भी विचार-विमर्श करेंगे।

महिला पुलिस कर्मियों की क्षमता निर्माण से निपटने और संपूर्ण व्यावसायिकता प्राप्त करने के लिए पुलिस कार्यों में पर्याप्त अवसर प्रदान करने के लिए एक सशक्त निकाय की लंबे समय से जरूरत महसूस की जा रही थी। एनसीडब्ल्यूपी इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एक समग्र समाधान के रूप में सामने आया। एनसीडब्ल्यूपी का पहला सम्मेलन 2002 में नई दिल्ली में आयोजित किया गया, जिसमें विभिन्न राज्यों/केन्द्रशासित प्रदेशों और केन्द्रीय पुलिस संगठनों की अलग-अलग रैंकों की महिला पुलिस कर्मियों ने बड़े उत्साहपूर्वक भाग लिया। एनसीडब्ल्यूपी सभी पुलिस संगठनों/सीपीओ में यौन उत्पीड़न से निपटने के तंत्र को मजबूत बनाने और उस पर निगरानी रखने तथा सक्रिय तरीकों और साधनों का सुझाव देने के लिए लगातार काम कर रहा है।

Comments

Popular Posts

Index of Eight Core Industries (Base: 2011-12=100) March, 2019

Index of Eight Core Industries (Base: 2011-12=100) February, 2019

Index of Eight Core Industries (Base: 2011-12=100) May, 2019