Dynamic fares for its premium trains प्रीममयम रेलगाड़ियों में डायनेममक ककराया

Dynamic fares for its premium trains प्रीममयम रेलगाड़ियों में डायनेममक ककराया

GOVERNMENT OF INDIA
MINISTRY OF RAILWAYS

LOK SABHA 

UNSTARRED QUESTION NO. 2990
TO BE ANSWERED ON 03.08.2022

DYNAMIC FARE FOR PREMIUM TRAINS 

2990. SHRI BENNY BEHANAN

Will the Minister of RAILWAYS be pleased to state:

(a) whether the Railways has introduced demand-based dynamic fares for its premium trains;

(b) if so, the category of trains that has been included under such pricing;

(c) whether the Government is aware of the fact that most of such trains are now running with empty berths as passengers are choosing to travel by flight;

Dynamic fares for its premium trains

(d) whether the Government is contemplating to reverse the dynamic fare policy in view of the negative response and fall in passenger occupancy; and

(e) if so, the details in this regard?

ANSWER
MINISTER OF RAILWAYS, COMMUNICATIONS AND ELECTRONICS & INFORMATION TECHNOLOGY

(SHRI ASHWINI VAISHNAW)

(a) to (e): A Statement is laid on the Table of the House. 

STATEMENT REFERRED TO IN REPLY TO PARTS (a) TO (e) OF UNSTARRED QUESTION NO. 2990 BY SHRI BENNY BEHANAN TO BE ANSWERED IN LOK SABHA ON 03.08.2022 REGARDING DYNAMIC FARE FOR PREMIUM TRAINS

(a) & (b): With effect from 09.09.2016, flexi Fare system has been introduced in Rajdhani, Duronto and Shatabdi trains. Under this system, the base fare increases by 10% with every 10% of berths sold subject to fixed maximum ceiling limit.

(c) to (e): During Pre Covid both number of passengers as well as earnings by these trains have increased in comparison to Non-Flexi fare period. At present, there is no proposal to reverse the flexi fare policy.

Further, Railways and Airlines are different modes of transport, which are not comparable in the terms of volume, connectivity as well as convenience.

There is no fixed maximum limit of fare in Airlines whereas Railways have fixed maximum fare throughout the year. Airline fare varies significantly depending on time of operation, stoppages, travel duration, Origin – Destination pair, carrier etc. Railways’ fare may or may not be higher than the air fare depending upon the class of travel as well as factors like peak/ lean periods. It is the choice of the passengers to opt either for Railway or Airlines as per their convenience and requirement.

भारत सरकार
रेल मंत्रालय

लोक सभा

03.08.2022 क
अतारांककत प्रश्न सं. 2990 का उत्तर

प्रीममयम रेलगाड़ियों में डायनेममक ककराया

2990. श्री बैन्नी बेहनन:

क्या रेल मंत्री यह बताने की कृ पा करेंगे किः

(क) क्या रेलवे ने अपनी प्रीममयम रेलगाड़ियों हेतम मांग आधाररत डायनेममक ककराए की शमरुआत की है;

(ख) यदि हां, तो उक्त कीमतों के अंतगगत किन  श्रेणियों की रेलगाड़ियों को शामिल किया  गया है;

(ग) क्या सरकार को इस तथ्य की जानकारी है की  ऐसी अधिकांश  रेलगाड़ियां अब खाली बर्ग के सार् चल रही हैं क्योंकक यात्री व मान से यात्रा करना पसंद  कर रहे हैं

(घ) क्या सरकार नकारात्मक प्रकतकाया र यारियत्रयों की संख्या में गिरावट को देखते हुए डायनेमिक किराया नीति को वापस वापस  लेने पर व चार कर रही है; 

(ड.) यदि हां, तो तत्संबंधी ब्यौरा क्या है?
उत्तर

रेल, संचार एवं  इलेक्रॉकनकी सूचना प्रौद्योधगकी मंत्री
(श्री अश्विनी वैष्णावभ )

(क) से (ड.): व रि सभा पटल पर रख दिया गया है।

प्रीमियम रेलगाड़ियों में डायनेमिक किराये के संबंध में 03.08.2022 को लोक सभा में श्री बैन्नी बेहनन के अतारांकित प्रश्न संखया 2990 के भाग (क) से (ड.) के उत्तर से संबंधित विवरण।

(क) और (ख): 09.09.2016 से राजधानी, दूरांतो और शताब्दी रेलगाडियों में फ्लेक्सी फेयर सिस्टम चालू किया गया है। इस प्रणाली के तहत, निर्धारित अधिकतम सीमा के अध्यधीन बिक्री की जाने वाली प्रत्येक 10% बर्थ के साथ मूल किराया 10% तक बढ़ जाता है।

(ग) से (ड): कोविड पूर्व अवधि के दौरान गैर-फ्लेक्सी किराया अवधि की तुलना में इन गाडियों से यात्रियों की संख्या के साथ-साथ आमदनी में भी वृद्धि हुई है। वर्तमान में फ्लेक्सी किराया नीति को बदलने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

इसके अलावा, रेलवे और एयरलाइंस परिवहन के विभिन्‍न साधन हैं, जिनकी मात्रा, कनेक्टिविटी और सुविधा के मामले में तुलनना नहीं की जा सकती है।

एयरलाइंस में किराए की कोई अधिकतम सीमा निर्धारित नहीं है जबकि रेलवे ने पूरे वर्ष में अधिकतम किराया निर्धारित किया है। एयरलाइन का किराया संचालन के समय, ठहराव, यात्रा अवधि, आरंभिक गंतव्य जोड़ी, वाहक आदि के आधार पर घटता-बढ़ता रहता है। रेलवे का किराया यात्रा की श्रेणी के साथ-साथ व्यस्त और कम व्यस्त अवधि जैसे कारकों के आधार पर हवाई किराए से अधिक हो भी सकता है और नहीं भी हो सकता है। यह यात्रियों की पसंद है कि वे अपनी सुविधा और आवश्यकता के अनुसार रेलवे या एयरलाइन में से किसी एक विकल्प को चुनें।


नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****

Comments

This week popular schemes

ISRO NAVIC GPS App Download : Indian Regional Navigation Satellite System (IRNSS)

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

Good news for central government employees and pensioners

Himachal Pradesh Unemployment Allowance Scheme Online Registration

Happy Independence day 2022 स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामना

Booking of Air tickets by Central Government employees for LTC purpose by three Government owned firms viz. Balmer Lawrie, Ashoka Travels and IRCTC

Gharkul Awas Yojana 2022 महाराष्ट्र सरकार ने घरकुल योजना 2022 का शुभारंभ किया

NSDL Pan Card Status : Track PAN/TAN Application Status

Ujjain Mahakal Online Darshan Ticket, Bhasma Arti Booking & Order Prasad

Jharkhand Jharsewa Portal आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र, भूमि पट्टे आसानी से प्राप्त करें