Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana पीएम सम्मान निधि मे श्रमिक घर बैठे मोबाइल ऐप से अपडेट करें बैंक खाता

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana पीएम सम्मान निधि मे श्रमिक घर बैठे मोबाइल ऐप से अपडेट करें बैंक खाता

श्रम विभाग में पंजीकृत निर्माण श्रमिक अपना बैंक खाता घर बैठे-अपडेट कर सकते हैं। विभाग ने इसके लिए एक मोबाइल ऐप upbocw लांच किया है। इस एप को डॉउनलोड कर पंजीकृत व नवीनीकृत श्रमिक, जिन्हें 1000 रुपए की आर्थिक मदद नहीं मिली है। उन्हें बैंक खाता अपडेट करने के साथ ही एक हजार रुपए की आर्थिक मदद भी चंद दिनों में मिल जाएंगे। 

उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार काल्याण बोर्ड की ओर से नवीनीकृत श्रमिकों को आपदा राहत सहायता योजना के तहत भरण-पोषण के लिए एक हजार रुपए की पहली किश्त भेजी गई है। लखनऊ में 60,999 नवीनीकृत श्रमिक हैं। 
Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana
इनमें से 38,874 का बैंक विवरण सही मिला और  खातों में 1000 रुपए चले गए। पर तमाम प्रयासों के बाद भी 22 हजार श्रमिकों के बैंक खातों का विवरण न होने के कारण पैसा नहीं जा सका है। अपर श्रमायुक्त बीके राय ने बताया कि  एप को डॉउनलोड कर श्रमिक अपना खाता अपड़ेट करें और आर्थिक मदद पाए।

प्ले स्टोर से डॉउनलोड करें एप बैंक खाता घर बैठे-अपडेट

श्रमिक ऐप (upbocw app) को गूगल प्ले स्टोर से अपलोड करें। श्रमिक के विवरण के सत्यापन के लिए मोबाइल नम्बर, पंजीयन संख्या व आधार संख्या भरने के बाद  सत्यापित पर क्लिक करे । ओटीपी आएगा । सत्यापित करें। नाम आदि भरने के बाद फिर से ओटीपी आएगा। सत्यापित करते ही श्रमिक का बैंक खाता के कालम आ जाएंगें । श्रमिक अपने बैंक खाता का विवरण भरें। अपडेट पर क्लिक करे। श्रमिक मोबाइल नम्बर  7080424242 , 9670159035 पर सम्पर्क कर सकता हैं।

पीएम किसान फसल बीमा का लाभ लेने वाले अभ्यर्थी सावधान रहें. एक गलत जानकारी भी देना आपको इस योजना के लाभ से वंचित कर सकता है. दरअसल, केंद्र सरकार के नये नियम के अनुसार अब प्रत्येक साल पीएम किसान बीमा योजना की मॉनिटरिंग की जाएगी, जिसे तहत टीम सभी लाभार्थियों का सर्वेक्षण करेगी ।

पीएम सम्मान निधि वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक प्रत्येक साल केंद्र सरकार द्वारा बनाई गई टीम लाभार्थियों का वेरिफिकेशन करने का काम करेगी. इस दौरान टीम लाभार्थियों द्वारा दी गई जानकारी का वैरिफिकेशन करेगी. वैरिफिकेशन में गलत सूचना पाए जाने पर योजना से वंचित कर दिया जाएगा ।

एक साल के लिए वैलिड लिस्ट– वेबसाइट के मुताबिक पीएम किसान सम्मान निधि योजना में शामिल लाभार्थियों की सूची सिर्फ एक साल के लिए वैलिड रहता है। इसके आगे यह वैलिड नहीं रहता नहीं. प्रत्येक साल सम्मान निधि लाभार्थियों की नई सूची तैयार की जाती है. सूची को ग्राम स्तर पर बनाई जाती है।

क्यों पड़ी जरूरत- सरकार को वेरिफिकेशन करने की जरूरत क्यों पड़ी है? दरअसल, कई ऐसी खबरें छप चुकी है जिसमें सरकार को सूचना मिली रही थी देश के कई हिस्सों में इसका दुरपयोग किया जा रहा है. इसलिए सरकार ने यह फैसला किया है. इस फैसले से अब सरकार यह जान पाएगी कि आखिर जो पैसा है वो सही लोग तक पहुंच रहे हैं या नहीं?
कैसे होगा वैरिफिकेशन- प्रत्येक साल वैरिफिकेशन का काम किया जाएगा. हालांकि यह वैरिफिकेशन सभी लाभार्थियों का नहीं किया जाएगा. वैरिफिकेशन रेंडमली तरीके से किया जाएगा. वैरिफिकेशन करने वाले पदाधिकारी किसी पांच लोगों का वैरिफिकेशन कर रिपोर्ट तैयार करने का काम करेगा।

गौरतलब है कि इससे पहले खबर आई थी कि केंद्र सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना की पहली किस्त के तहत चालू वित्त वर्ष के प्रारंभ में ही कुल 7.92 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 15,841 करोड़ रुपये की राशि हस्तांतरित कर चुकी है. यह जानकारी शुक्रवार को कृषि मंत्रालय के एक बयान में दी गयी. इस योजना के तहत उच्च आय वाले किसानों को छोड़ कर सभी किसानों को प्रत्येक वित्त वर्ष में 2000- 2000 रुपये की तीन किस्तों में कुल 6000 रुपये की सहायता दी जाती है।

वेबसाइट के मुताबिक पीएम किसान सम्मान निधि योजना में शामिल लाभार्थियों की सूची सिर्फ एक साल के लिए वैलिड रहता है. इसके आगे यह वैलिड नहीं रहता नहीं. प्रत्येक साल सम्मान निधि लाभार्थियों की नई सूची तैयार की जाती है. सूची को ग्राम स्तर पर बनाई जाती है।

क्यों पड़ी जरूरत ?

सरकार को वेरिफिकेशन करने की जरूरत क्यों पड़ी है? दरअसल, कई ऐसी खबरें छप चुकी है जिसमें सरकार को सूचना मिली रही थी देश के कई हिस्सों में इसका दुरपयोग किया जा रहा है. इसलिए सरकार ने यह फैसला किया है. इस फैसले से अब सरकार यह जान पाएगी कि आखिर जो पैसा है वो सही लोग तक पहुंच रहे हैं या नहीं?

कैसे होगा वैरिफिकेशन

बताता जा रहा है कि प्रत्येक साल वैरिफिकेशन का काम किया जाएगा. हालांकि यह वैरिफिकेशन सभी लाभार्थियों का नहीं किया जाएगा. वैरिफिकेशन रेंडमली तरीके से किया जाएगा. वैरिफिकेशन करने वाले पदाधिकारी किसी पांच लोगों का वैरिफिकेशन कर रिपोर्ट तैयार करने का काम करेगा

Source: https://pmkisan.gov.in/

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।

*****

Comments

This week popular schemes

ISRO NAVIC GPS App Download : Indian Regional Navigation Satellite System (IRNSS)

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची। ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम ?

Coal India Limited has released Management Trainee MT Recruitment Online Form 2022

Old pension for employees before August 15

Income Tax Rule 30 D effect from the 1st July, 2022 : Income-Tax (19th Amendment) Rules, 2022

Apply Online for State Health Card in Uttar Pradesh under UP SECTS Scheme

Policy of e-auction for Commercial Earing , Non-Fare Revenue (NFR) contracts launched by Shri Ashwini Vaishnaw

Public Provident Fund, Senior Citizen Savings Scheme, Sukanya Samriddhi Interest Rates to be Hiked Soon?

Government Employees News : Kerala launches medical insurance for govt employees, pensioners