Rural Connectivity GIS Data in Public Domain Launch by Minister of Rural Development and Panchayati Raj सार्वजनिक क्षेत्र में ग्रामीण कनेक्टिविटी जीआईएस डेटा जारी होगा।

Rural Connectivity GIS Data in Public Domain Launch by Minister of Rural Development and Panchayati Raj सार्वजनिक क्षेत्र में ग्रामीण कनेक्टिविटी जीआईएस डेटा जारी होगा। 

Ministry of Rural Development

Minister of Rural Development and Panchayati Raj to launch Rural Connectivity GIS Data in Public Domain tomorrow

GIS Data for 800,000+ rural facilities, 1 Million+ habitations and 25,00,000 km+ of rural roads collected and digitised using GIS platform will be made available to the public

National Rural Infrastructure Development Agency (NRIDA) will be signing MoU with 3 renowned GIS Firms & collaborating with Gati Shakti for releasing the Rural Connectivity GIS Data in Public Domain

Posted On: 21 FEB 2022 6:20PM by PIB Delhi

Union Minister for Rural Development and Panchayati Raj Shri Giriraj Singh will launch Rural Connectivity GIS Data in Public Domain at 12 PM on 22nd February, 2022 in India Habitat Centre, New Delhi.

Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana (PMGSY) was launched in the year 2000, with an objective to provide all-weather road connectivity to eligible unconnected habitations throughout the nation. Later on upgradation and consolidation of through routes and major rural links was also included as its objective to give fillip to the rural economy.  Since inception, 7.83 lakh Km roads have been sanctioned and 6.90 lakh Km have been constructed with an expenditure of Rs. 2.69 lakh crores.

Rural Connectivity GIS Data in Public Domain

As part of the implementation of PMGSY, GIS data for 800,000+ rural facilities as points, 1 Million + habitations and 25,00,000+ km of rural roads have been collected and digitised using GIS platform developed for the scheme. The collected rural connectivity GIS data will be available to the public.

NRIDA, the nodal implementation agency of PMGSY scheme will be signing MoU with 3 renowned GIS Firms & collaborating with Gati Shakti for releasing the Rural Connectivity GIS Data in Public Domain. Gati Shakti is a national master plan and digital platform to plan and execute infrastructure projects in India to reduce logistics costs and enhance infrastructure. NRIDA is collaborating with Gati Shakti with an objective to exchange the data for the better planning and implementation of both the schemes.

The launch of GIS data will be followed by technical session where presentation by ESRI India, MapmyIndia, DataMeet, Gati Shakti and CDAC Pune will be made.

ग्रामीण विकास मंत्रालय

ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री कल सार्वजनिक क्षेत्र में ग्रामीण कनेक्टिविटी जीआईएस डेटा जारी करेंगे

800,000 से अधिक ग्रामीण सुविधाओं, 1 मिलियन से अधिक बस्तियों और 25,00,000 किलोमीटर से अधिक लम्बाई की ग्रामीण सड़कों के लिए जीआईएस डेटा को जीआईएस प्लेटफॉर्म का उपयोग करके एकत्र और डिजीटलीकृत करके जनता के लिए उपलब्ध कराया जाएगा

राष्ट्रीय ग्रामीण अवसंरचना विकास एजेंसी (एनआरआईडीए) 3 प्रसिद्ध जीआईएस फर्मों के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करेगी और सार्वजनिक क्षेत्र में ग्रामीण कनेक्टिविटी जीआईएस डेटा जारी करने के लिए गति शक्ति के साथ सहयोग करेगी

केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री श्री गिरिराज सिंह 22 फरवरी, 2022 को दोपहर 12 बजे नई दिल्ली के इंडिया हैबिटेट सेंटर में सार्वजनिक क्षेत्र में ग्रामीण कनेक्टिविटी जीआईएस डेटा जारी करेंगे।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) वर्ष 2000 में शुरू की गई थी, जिसका उद्देश्य पूरे देश में योग्य असंबद्ध बस्तियों को हर मौसम में उचित सड़क संपर्क प्रदान करना था। बाद में ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के उद्देश्य के रूप में मार्गों और प्रमुख ग्रामीण सम्पर्क के उन्नयन और समेकन को भी शामिल किया गया था। योजना के शुरू होने के बाद से, 7.83 लाख किलोमीटर सड़कों को मंजूरी दी गई है और 6.90 लाख किलोमीटर सड़कों का निर्माण 2.69 लाख करोड़ रुपये की लागत से किया गया है।

पीएमजीएसवाई के कार्यान्वयन के हिस्से के रूप में, योजना के लिए विकसित जीआईएस प्लेटफॉर्म का उपयोग करके 800,000 से अधिक ग्रामीण सुविधाओं के लिए जीआईएस डेटा, 1 मिलियन से अधिक आवास और 25,00,000 किलोमीटर से अधिक लम्बाई की ग्रामीण सड़कों के लिए एकत्र और डिजिटल किया गया है। एकत्रित ग्रामीण कनेक्टिविटी जीआईएस डेटा जनता के लिए उपलब्ध होगा।

पीएमजीएसवाई योजना की नोडल कार्यान्वयन एजेंसी, एनआरआईडीए 3 प्रसिद्ध जीआईएस फर्मों के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करेगी और सार्वजनिक क्षेत्र में ग्रामीण कनेक्टिविटी जीआईएस डेटा जारी करने के लिए गति शक्ति के साथ सहयोग करेगी। गति शक्ति रसद लागत को कम करने और बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए भारत में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की योजना बनाने और निष्पादित करने के लिए एक राष्ट्रीय मास्टर प्लान और डिजिटल प्लेटफॉर्म है। एनआरआईडीए दोनों योजनाओं की बेहतर योजना और कार्यान्वयन के लिए डेटा का आदान-प्रदान करने के उद्देश्य से गति शक्ति के साथ सहयोग कर रहा है।

जीआईएस डेटा का शुभारंभ तकनीकी सत्र के बाद किया जाएगा जहां ईएसआरआई इंडिया, मैपमाईइंडिया, डेटामीट, गति शक्ति और सीडीएसी पुणे द्वारा प्रस्तुतिकरण किया जाएगा।

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****

Comments

This week popular schemes

Apply Online for State Health Card in Uttar Pradesh under UP SECTS Scheme

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

Kranthi Veera Sangolli Rayanna Sainik School at Belgaum district of Karnataka on the erstwhile pattern of Sainik Schools

Uttar Pradesh One District One Product Training and Toolkit Scheme : उत्तर प्रदेश एक जनपद एक उत्पाद प्रशिक्षण एवं टूलकिट योजना

7th Pay Commission increase to 13% DR इन सरकारी कर्मचारियों को मिली बड़ी राहत, 13 फीसद DR में बढ़ोतरी

ISRO NAVIC GPS App Download : Indian Regional Navigation Satellite System (IRNSS)

What is Pradhan Mantri Awas Yojana-Urban? Who can avail it?

Post Office National Savings Monthly Income Account

Objectives, Eligibility, Rules of Sukanya Samriddhi Account (SSA) Scheme

Mineral Production Goes up By 4% in March 2022