All-India Consumer Price Index Numbers for Agricultural and Rural Labourers – June, 2021 उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या - जून, 2021

All-India Consumer Price Index Numbers for Agricultural and Rural Labourers – June, 2021 उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या - जून, 2021

Ministry of Labour & Employment श्रम और रोजगार मंत्रालय

All-India Consumer Price Index Numbers for Agricultural and Rural Labourers – June, 2021

कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या - जून, 2021

Posted On: 20 JUL 2021 5:24PM by PIB Delhi

The All-India Consumer Price Index Numbers for Agricultural Labourers and Rural Labourers (Base: 1986-87=100) for the month of June, 2021 increased by 8 points each to stand at 1057 (One thousand and fifty seven) and 1065 (One thousand and sixty five) points respectively. The major contribution towards the rise in general index of Agricultural Labourers and Rural Labourers came from food with (+) 6.00 points and (+) 6.10 points respectively mainly due to rise in prices of pulses, vegetables & fruits, onion, meat goat, fish fresh/dry, mustard oil, guretc.

कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (आधार: 1986-87=100) माह, जून 2021 के लिए 8 अंक बढ़कर क्रमशः 1057 (एक हजार सत्तावन) और 1065 (एक हजार पैंसठ) रहे।कृषि मजदूरों और ग्रामीण मजदूरों के सामान्य सूचकांक में वृद्धि मुख्य रूप से दालों, सब्जियों और फलों, प्याज, मांस बकरी, मछली की कीमतों में वृद्धिखाद्य समूह सूचकांक ((+) 6.00 अंक) और (+) 6.10 में वृद्धि के कारण हुई क्योंकि दालें, सब्जियां और फल, प्याज, बकरी का मांस, ताजा/सूखी मछली, सरसों का तेल, गुड़ आदि की कीमतों में वृद्धि हुई।

The rise/fall in index varied from State to State. In case of Agricultural Labourers, it recorded an increase of 1 to 10 points in 19 States and a decrease of 10 points in Jammu & Kashmir State. Tamil Nadu State with 1256 points topped the index table whereas Himachal Pradesh State with 824 points stood at the bottom.

सूचकांक में वृद्धि/गिरावट अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग रही। कृषि मजदूरों के मामले में,  19 राज्यों में 1 से 10 अंक की वृद्धि और जम्मू -कश्मीर राज्य में 10 अंकों की कमी दर्ज की गई। तमिलनाडु राज्य 1256 अंकों के साथ सूचकांक तालिका में सबसे शीर्ष पर रहा जबकि हिमाचल प्रदेश राज्य 824 अंकों के साथ सबसे नीचे रहा।

In case of Rural Labourers, it recorded an increase of 2 to 10 points in 19 States and a decrease of 9 points in Jammu & Kashmir State. Tamil Nadu State with 1241 points topped the index table whereas Bihar State with 863 points stood at the bottom.

ग्रामीण मजदूरों के मामले में, 19 राज्यों में 2 से 10 अंक की वृद्धि और जम्मू-कश्मीर राज्य में 9 अंकों की कमी दर्ज की। तमिलनाडु राज्य 1241 अंकों के साथ सूचकांक तालिका में सबसे शीर्ष पर है जबकि बिहार राज्य 863 अंकों के साथ सबसे नीचे रहा।

Amongst states, the maximum increase in the Consumer Price Index Numbers for Agricultural Labourers was experienced by Kerala State (+10 points) and for Rural Labourers it was experienced by four States namely Kerala, Maharashtra, Tamil Nadu & Uttar Pradesh (+10 points) mainly due to rise in the prices of groundnut oil, vegetables & fruits, fish fresh, meat goat, milk, sugar, onion, chillies-dry, gur, shirting cloth cotton (mill), plastic shoes, medicine, etc. On the contrary, the maximum decrease in the Consumer Price Index Numbers for Agricultural and Rural Labourerswas experienced by Jammu & Kashmir State (-10 points and -9 points respectively) due to fall in the prices of wheat atta, vegetables and fruits, chillies green, garlic.        

राज्यों में, कृषि मजदूरों के उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या में अधिकतम वृद्धि केरल राज्य (+10 अंक) में दर्ज की गई। मुख्य रूप से मूंगफली के तेल, सब्जियों और फलों, ताजा मछली, मांस बकरी, दूध, चीनी, प्याज, मिर्च-सूखी, गुड़, शर्टिंग कपड़ा कपास (मिल), प्लास्टिक के जूते, दवा आदि की कीमतों में वृद्धि के कारण ग्रामीण मजदूरों के मामले में चार राज्यों- केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश (+10 अंक) ने वृद्धि दर्ज की गई। इसके विपरीत, गेहूं आटा, सब्जियों और फलों, मिर्च की कीमतों में गिरावट के कारण कृषि और ग्रामीण मजदूरों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या में अधिकतम कमी जम्मू -कश्मीर राज्य (क्रमशः -10 अंक और -9 अंक) की कमी दर्ज की गई।

Point to point rate of inflation based on the CPI-AL and CPI-RL stood at 3.83% & 4.00% in June, 2021 compared to 2.94% & 3.12% respectively in May, 2021 and 7.16% and 7.00% respectively during the corresponding month of the previous year. Similarly, Food inflation stood at 2.67% & 2.86% in June, 2021 compared to 1.54% & 1.73% respectively in May, 2021 and 8.57% & 8.41% respectively during the corresponding month of the previous year.

सीपीआई-एएल और सीपीआई-आरएल पर आधारित मुद्रास्फीति की दर जून 2021 में बढ़कर 3.83 प्रतिशत और 4.00% प्रतिशत हो गई। यह मई, 2021 में क्रमश: 2.94 प्रतिशत और 3.12 प्रतिशत थी।  पिछले वर्ष यह इसी महीने के दौरान क्रमशः 7.16% और 7.00 प्रतिशत रही थी। खाद्य मुद्रास्फीति जून, 2021 में 2.67% और 2.86% रही, जो मई, 2021 में क्रमशः 1.54% और 1.73%  रही थी और पिछले वर्ष के इसी महीने के दौरान यह क्रमशः 8.57% और 8.41% थी।

Consumer Price Index

1. All-India Consumer Price Index Number (General & Group-wise):

अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक संख्या (सामान्य तथा समूह के अनुसार):

Group

Agricultural Labourers

Rural Labourers

May,2021

June,2021

May,2021

June,2021

General Index

1049

1057

1057

1065

Food

992

1001

999

1008

Pan, Supari, etc.

1809

1820

1822

1832

Fuel & Light

1131

1134

1126

1130

Clothing, Bedding &Footwear

1056

1063

1070

1078

Miscellaneous

1097

1102

1101

1105

Agricultural and Rural Labourers

Shri DPS Negi, Director General of Labour Bureau while releasing the index said that the increase in general index of Agricultural Labourers and Rural Labourers is mainly on account of increase in the prices ofpulses, vegetables & fruits, onion, meat goat, fish fresh/dry, mustard oil, gur, shirting cloth (cotton mill), plastic shoes, firewood and kerosene etc.”

श्रम ब्यूरो के महानिदेशक श्री डीपीएस नेगी ने सूचकांक जारी करते हुए कहा कि कृषि श्रमिकों और ग्रामीण मजदूरों के सामान्य सूचकांक में वृद्धि मुख्य रूप से दालों, सब्जियों और फल, प्याज, बकरी का मांस, ताजा/सूखी मछली, सरसों का तेल, गुड़, शर्टिंग कपड़ा (सूती मिल), प्लास्टिक के जूते, और मिट्टी के तेल आदि की कीमतों में वृद्धि के कारण हुई है।

The CPI – AL and RL for the month of July, 2021 will be released on 20thAugust, 2021.

जुलाई, 2021 के लिए सीपीआई-एएल और आरएल 20 अगस्त, 2021 को जारी किया जाएगा।

Source: PIB

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****

Comments

This week popular schemes

Uttar Pradesh Shramik Card Online Registration 2020 उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण 2020

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची। ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम ?

Ek Bharat Shrestha Bharat Activities in Schools : CBSE

Modi government will again increase the salary of central employees दिवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों की मोदी सरकार फिर बढ़ेगी सैलरी, यहां जानें किसे कितना होगा फायदा?

Sainik School Admission 2021-22 (Class 6,9), Apply Online

7th Pay Commission Latest News GPF, Insurance, Ex-gratia Compensation Nomination Form Amended

YSR Pension Kanuka List 2021

Indian Navy Recruitment 10+2 Sailor Entry AA & SSR February 2022 Batch

Delhi Prevention and Control of Malaria, Dengue, Chikungunya or any Vector Borne Disease Regulations, 2021