Government clarifies that there is no cyber breach into NIC email system सरकार ने स्पष्ट किया कि एनआईसी ईमेल प्रणाली में किसी भी प्रकार का साइबर अतिक्रमण नहीं हुआ

Government clarifies that there is no cyber breach into NIC email system सरकार ने स्पष्ट किया कि एनआईसी ईमेल प्रणाली में किसी भी प्रकार का साइबर अतिक्रमण नहीं हुआ

 Ministry of Electronics & IT इलेक्ट्रानिक्स एवं आईटी मंत्रालय

Government clarifies that there is no cyber breach into NIC email system

सरकार ने स्पष्ट किया कि एनआईसी ईमेल प्रणाली में किसी भी प्रकार का साइबर अतिक्रमण नहीं हुआ

Posted On: 13 JUN 2021 7:13PM by PIB Delhi

A media story on impact of data breaches in organisations such as Air India, Big Basket and Domino’s has claimed that these breaches have exposed email accounts and passwords of NIC emails to the hackers.
cyber breach into NIC email system
एयर इंडिया, बिग बास्केट और डोमिनोज जैसे संगठनों में डेटा अतिक्रमणो के प्रभाव पर मीडिया में एक खबर ने दावा किया है कि इन अतिक्रमणों से हैकर्स को राष्ट्रीय सूचना केंद्र-एनआईसी ईमेल के ईमेल खाते और पासवर्ड प्राप्त हो गए हैं।

In view of this it is important to clarify that firstly, there has been no cyber breach into the email system of the Government of India maintained by the National Informatics Centre (NIC). The email system is totally safe and secure.

इसे देखते हुए यह स्पष्ट करना महत्वपूर्ण है कि सबसे पहले, राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) द्वारा अनुरक्षित भारत सरकार की ईमेल प्रणाली में कोई साइबर अतिक्रमण नहीं हुआ है। ईमेल प्रणाली पूरी तरह से सुरक्षित और सकुशल है।

Secondly, cyber security breach on external portals may not impact the users of Government Email Service, unless the Government users have registered on these portals using their Government Email Address and have used the same password as the one used in the Government Email Account.

दूसरे, बाहरी पोर्टलों पर साइबर सुरक्षा उल्लंघन सरकारी ईमेल सेवा के उपयोगकर्ताओं को प्रभावित नहीं कर सकता है, जब तक कि सरकारी उपयोगकर्ताओं ने अपने सरकारी ईमेल पते का उपयोग करके इन पोर्टलों पर पंजीकरण नहीं कराया है और सरकारी ईमेल खाते में उपयोग किए गए पासवर्ड का उपयोग नहीं किया है।

NIC Email system has put in place several security measures such as two factor authentication and change of password in 90 days. Further, any change of password in NIC Email requires mobile OTP and if the mobile OTP is incorrect then change of password will not be possible. Any attempt of phishing using NIC Email can be mitigated by NIC. NIC also undertakes user awareness drives from time to time and keeps updating the users about potential risks and safety protocols.

एनआईसी ईमेल प्रणाली ने दो घटकीय प्रमाणीकरण और 90 दिनों में पासवर्ड बदलने जैसे कई सुरक्षा उपाय किए हैं। इसके अलावा, एनआईसी ईमेल में पासवर्ड के किसी भी परिवर्तन के लिए मोबाइल ओटीपी की आवश्यकता होती है और यदि मोबाइल ओटीपी गलत है तो पासवर्ड बदलना संभव नहीं होगा। एनआईसी ईमेल का उपयोग करके अतिक्रमण के किसी भी प्रयास को एनआईसी द्वारा रोका किया जा सकता है। एनआईसी समय-समय पर उपयोगकर्ता जागरूकता अभियान भी चलाता है और संभावित खतरों और सुरक्षा प्रोटोकॉल के बारे में उपयोगकर्ताओं को अपडेट करता रहता है।

Source: PIB

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****

Comments

This week popular schemes

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

Punjab Dr. Ambedkar Scholarship 2021, Apply, Online

Uttar Pradesh Shramik Card Online Registration 2020 उत्तर प्रदेश श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण 2020

Hostels in Navodaya Vidyalayas , State/UT-wise details of construction of hostels in Jawahar Navodaya Vidyalayas

Driver, Mentor / Watchman / Water Carrier, Madhya Pradesh High Court Group D Class IV Various Post Online Form 2021

Pradhan Mantri Awas Yojana (PMAY) Scheme : How to avail of the benefit

Form No. 52A - Statement under Section 285B: Income Tax (32nd Amendment), Rules, 2021

Aadhaar 2.0- Ushering the Next Era of Digital Identity and Smart Governance’

Centre approves construction of 24K houses under Pradhan Mantri Awas Yojana- Rural : Madhya Pradesh

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची। ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम ?