Featured Post

Indian Railway Service of Signal Engineers Officer takes over as Member (Signal & Telecom) Railway Board

Press Information Bureau  Government of India Ministry of Railways 18-April-2019 17:34 IST Shri N. Kashinath, Indian Railway Ser...

Sunday, October 14, 2018

Tourism in Northeast, पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन

Northeast tourism reached new heights in 4 years, says DoNER Minister Dr Jitendra Singh 

     The Union Minister of State (Independent Charge) Development of North Eastern Region (DoNER), MoS PMO, Personnel, Public Grievances & Pensions, Atomic Energy and Space, Dr Jitendra Singh has said that Northeast tourism has reached new heights in the last four years and this has been possible because of special thrust and impetus given by the Union government, with the direct indulgence of the Prime Minister Shri Narendra Modi.
Tourism+North+East


       Interacting with the members of a young Start-Up group here today, after launching the Northeast Tourism app developed by them, Dr Jitendra Singh said, fast-track progress in providing connectivity to distant areas in the region has inspired tourists from far and wide to look forward to Northeast as a favourite holiday destination. In addition, he said, the Ministry of DoNER undertook a campaign showcasing Northeast across the country, which has also generated unusual interest among potential tourists.

     Dr Jitendra Singh pointed out that some of the Northeast destinations like Gangtok, Sikkim and Shillong, Meghalaya have started attracting such heavy rush of tourists that during the last two years, there have been occasions when tourists were advised by the tour-operators to postpone their trip by a few days till the rush weaned away. Not only this, he said, "Home Tourism” has picked up in a big way, resulting in new avenues of livelihood for the local populace, including the youth.

     The Majuli island in Assam, Dr Jitendra Singh informed, is being developed as a World Heritage tourist resort and several scenic spots in Arunachal Pradesh have suddenly come into focus because now there is a rail link with Arunachal Pradesh and soon an Airport will also come up at Itanagar.

    The most impartial and objective evidence testifying the upsurge in tourist inflow, Dr Jitendra Singh said, can be obtained from the fact that private tour-operators from far flung States of South India are also now planning Vacation itineraries for Northeast.

      Dr Jitendra Singh said the Northeast outreach by the Ministry of DoNER has touched chord with the youth across the country.



पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन 4 वर्षों के दौरान नई ऊंचाइयों पर पहुंच गयाः डॉ जितेन्द्र सिंह 

    केन्द्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायतें और पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्यमंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा कि पिछले चार वर्षों के दौरान पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन नई ऊंचाइयों पर पहुंच गया है और यह प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रत्यक्ष अनुग्रह और केन्द्र सरकार द्वारा विशेष जोर तथा प्रोत्साहन देने के कारण ही संभव हुआ है।

Tourism+North+east

    आज युवा स्टार्ट-अप समूह द्वारा पूर्वोत्तर पर्यटन ऐप का शुभारंभ करने के बाद इस समूह के सदस्यों के साथ बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में दूरदराज के क्षेत्रों को कनेक्टिविटी उपलब्ध कराने में हुई तेज प्रगति ने पर्यटकों को एक पसंदीदा छुट्टी गंतव्य के रूप में पूर्वोत्तर की ओर रूख करने के लिए प्रेरित किया है। इसके अलावा, उनके मंत्रालय ने पूरे देश में पूर्वोत्तर को प्रदर्शित करने का अभियान चलाया है, जिससे संभावित पर्यटकों में पूर्वोत्तर क्षेत्र के प्रति गहरी रुचि पैदा हुई है।

    डॉ जितेंद्र सिंह ने बताया कि गंगटोक, सिक्किम, शिलांग और मेघालय जैसे पूर्वोत्तर क्षेत्र के गंतव्यों ने पिछले दो वर्षों के दौरान इतनी बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित किया है, जिसके कारण ऐसे अवसर भी आए हैं, जब टूर ऑपरेटरों ने यहां आने वाले पर्यटकों को भीड़ कम होने तक अपनी यात्राओं को कुछ दिनों तक स्थगित करने की सलाह दी थी। यहीं नहीं, बल्कि "गृह पर्यटन" में भी बड़े पैमाने पर बढ़ोतरी हुई है, जिससे युवाओं सहित स्थानीय लोगों के लिए आजीविका के नए रास्ते खुले हैं।

     उन्होंने कहा कि असम में माजुली द्वीप को विश्व धरोहर पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जा रहा है और अरुणाचल प्रदेश में अनेक खूबसूरत स्थलों पर भी अचानक ध्यान केन्द्रित हुआ है। ऐसा अरुणाचल प्रदेश के साथ रेल लिंक होने से हुआ है और जल्द ही इटानगर में हवाई अड्डा स्थापित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उनके मंत्रालय द्वारा पूर्वोत्तर क्षेत्र में स्थापित की गई पहुंच ने पूरे देश में युवाओं के मन के तार को स्पर्श किया है।
Previous Post
Next Post

0 comments:

Popular Posts