Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2022-23 मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना झारखण्ड का उद्देश्य

सूखा पड़ने पर किसानो को बहुत सी समस्या का सामना करना पड़ता है। इस समस्या के चलते किसानो की आर्थिक स्थिति पर भी गहरा प्रभाव पड़ता है। इस प्रकार की समस्याओ का समाधान निकालते हुए झारखण्ड की सरकार दुवारा मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना का संचालन किया है। इस योजना के माध्यम से झारखण्ड के उन सभी किसान को 3500 रूपये  की धनराशि प्रदान की जायगी जिनकी फसल सूखा पड़ने पर नष्ट हो गई है। सरकार की तरफ से योजना का लाभ लगभग 30 लाख किसान परिवारों को सहायता के रूप में प्रदान किया जायगा। 

Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2022-23

झारखण्ड के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी के दुवारा राज्य के किसानों को सूखे से होने वाले नुकसान से बचाने के लिए मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना को शुरू किया गया है। इस योजना का लाभ राज्य के 22 जिलों के 226 परखंडो में प्रदान किया जायगा जो की सूखे की चपेट में है। झारखण्ड के 30 लाख से अधिक किसानो की फसल सूखे के कारण नष्ट होती जा रही है। सरकार की तरफ से इन सभी किसान के परिवारों को 3500 रूपये की धनराशि मुहया कराई जायगी। Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana के माध्यम से झारखण्ड के सूखे की मार झेलने वाले किसानो को मुआवज़ा दिया जायगा। इस मुआवज़ा को प्राप्त कर किसान अपनी ज़रूरतों को पूरा कर पायगे। 
Jharkhand Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana
प्रदेश के किसानों तक योजना का लाभ पहुंचाने के लिए पंचायत वार शिविरों का आयोजन किया जाएगा। सरकार ने इस योजना के तहत ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों प्रकार से आवेदन प्रक्रिया रखी है। लेकिन किसानों को आवेदन करने से पहले अपना ई-केवाईसी करवाना अनिवार्य है जभी उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाएगा वरना नहीं।

Highlights of Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2022-23 

योजना का नाम

Mukhymantri Sukhad Rahat Yojana 2022-23

आरंभ की गई

लाभार्थी

उद्देश्य

फसल नुकसान होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करना

राज्य

झारखंड

लाभार्थी

झारखंड के किसान परिवार

आवेदन प्रक्रिया

ऑनलाइन

विभाग

कृषि विभाग

आधिकारिक वेबसाइट

https://msry.jharkhand.gov.in/


मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना झारखण्ड का उद्देश्य

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2022 को आरम्भ करने का उद्देश्य झारखण्ड के किसानो का सूखा पड़ने पर हुए फसल के नुक्सान में आर्थिक सहायता प्रदान करना है। जैसा की आप सभी जानते है बहुत से राज्यों में सूखा पड़ने पर किसानो की साल भर की मेहनत की हुई फसल का अधिकतर नष्ट होता चला आया है। ये समस्या का भार किसानो के परिवार की आर्थिक स्थिति पर पड़ जाता है। ये सभी समस्याओ का उपाए निकालते हुए मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना झारखण्ड का आरम्भ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के  आस पास के सभी जिलों में इस योजना का लाभ प्रदान किया जायगा। झारखण्ड में सूखा पड़ने पर हुई फसल के नष्ट से किसानो को राहत दिलाई जायगी। 

इसी के साथ किसानो की आर्थिक स्थिति में भी सुधार लाया जायगा। राज्य के किसानों को सूखा राहत हेतु 3500 रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी। जल्द ही प्रभावित किसानों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए गांव और पंचायत स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे।

Jharkhand Sukhad Rahat Yojana के लाभ एवं विशेषताएं
  • झारखण्ड के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी के दुवारा मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना को शुरू किया गया है। 

  • सूखे की स्थिति को देखते हुए 22 जिलों के 226 प्रखंडों के प्रति किसान परिवार को मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत तत्काल सूखा राहत हेतु 3500 रुपए की धन राशि दी जायगी और यह राशि उन्हें मुआवजे के रूप में दी जाएगी।
  • किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल पर नुकसान होने की स्थिति में आर्थिक सहायतामुहया कराई जायगी। 

  • प्रभावित किसानों को प्रारंभिक राहत राशि वितरित करने के लिए गांव और पंचायत स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे।

  •  Jharkhand Sukhad Rahat Yojana 2022-23 के अंतर्गत राज्य के आस पास के सभी जिलों में इस योजना का लाभ प्रदान किया जायगा। 

  • राज्य के किसानों को इस योजना के तहत लाभान्वित किया जा सके।

  • झारखण्ड सुखाड़ राहत योजना के माध्यम से झारखण्ड के किसान आत्मनिर्भर और सशक्त बन पायगे। 

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको सबसे पहले पंजीकरण करवाना है तभी आपको योजना का पात्र माना जायगा। 

  • किसान भाई अपनी फसल को सही मात्रा में ऊगा पाए और समय समय फसल में आने वाली सभी ज़रूरतों को को आसानी से पूरा कर पाए। 
Sukhad Rahat Yojana Jharkhand के लिए पात्रता
  • योजना का लाभ लेने वाले केवल राज्य के किसान ही पात्र माने जायगे। 

  • राज्य के सभी किसान इस योजना के पात्र होंगे जो पहले से किसी अन्य बीमा योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं।

  • झारखण्ड सुखाड़ राहत योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थी झारखण्ड के मूलनिवासी होना अनिवार्य है। 
जरूरी दस्तावेज
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • किसान आईडी कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • खेत का खाता नंबर
  • खसरा नंबर
मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत पंजीकरण करने की प्रक्रिया
  • पहले आपको मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आएगा। 

  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको पंजीकरण करें के ऑप्शन पर क्लिक करना हैं।

  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।

  • इस पेज पर आपको यूजरनेम और ईमेल आईडी एवं पासवर्ड दर्ज करनी है। 

  • अब आप को दिया गया कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।

  • अंत में आपको SIGN IN के ऑप्शन पर क्लिक करना   है। 
इस प्रकार मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के अंतर्गत पंजीकरण करने की प्रक्रिया पूरी होती है। 

Source: https://msry.jharkhand.gov.in/

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****
लेटेस्‍ट अपडेट के लिए  Facebook --- Twitter -- Telegram से  अवश्‍य जुड़ें