Draft GSR Notification to introduce Bharat NCAP (New Car Assessment Program) approved by Nitin Gadkari भारत एनसीएपी (नई कार आकलन कार्यक्रम) शुरू करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के प्रारूप को मंजूरी दी

Draft GSR Notification to introduce Bharat NCAP (New Car Assessment Program) approved by Nitin Gadkari भारत एनसीएपी (नई कार आकलन कार्यक्रम) शुरू करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के प्रारूप को मंजूरी दी

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय Ministry of Road Transport & Highways

श्री नितिन गडकरी ने भारत एनसीएपी (नई कार आकलन कार्यक्रम) शुरू करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के प्रारूप को मंजूरी दी

Shri Nitin Gadkari approves Draft GSR Notification to introduce Bharat NCAP (New Car Assessment Program)

प्रविष्टि तिथि: 24 JUN 2022 2:57PM by PIB Delhi

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने भारत- एनसीएपी (नई कार आकलन कार्यक्रम) शुरू करने को लेकर जीएसआर अधिसूचना के प्रारूप को मंजूरी दी है। इसके तहत भारत में ऑटोमोबिल को क्रैश टेस्ट (टक्कर परीक्षण) में उनके प्रदर्शन के आधार पर स्टार रेटिंग दी जाएगी।

Draft GSR Notification to introduce Bharat NCAP

Union minister for Road Transport and Highways Shri Nitin Gadkari has  approved the Draft GSR Notification to introduce Bharat NCAP (New Car Assessment Program), wherein automobiles in India shall be accorded Star Ratings based upon their performance in Crash Tests.

केंद्रीय मंत्री ने इस संबंध में सिलसिलेवार ट्वीट करके बताया कि भारत- एनसीएपी सुरक्षित वाहनों के निर्माण के लिए भारत में ओईएम (मूल उपकरण निर्माता) के बीच एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देते हुए एक उपभोक्ता- केंद्रित मंच के रूप में काम करेगा, जिससे ग्राहक स्टार- रेटिंग के आधार पर सुरक्षित कारों का चयन कर सकेंगे।

In a series of tweets he said Bharat-NCAP will serve as a consumer-centric platform allowing customers to opt for safer cars based upon their star-ratings, while promoting a healthy competition among OEMs in India to manufacture safer vehicles.

मंत्री ने आगे कहा कि क्रैश टेस्ट के आधार पर भारतीय कारों की स्टार रेटिंग न केवल वाहनों में संरचनात्मक और यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, बल्कि भारतीय ऑटोमोबिल की निर्यात- पात्रता को बढ़ाने के लिए भी अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि भारत- एनसीएपी के परीक्षण प्रोटोकॉल को मौजूदा भारतीय नियमों में फैक्टरिंग ग्लोबल क्रैश टेस्ट प्रोटोकॉल के साथ जोड़ा जाएगा। यह ओईएम को भारत की अपनी घरेलू परीक्षण सुविधाओं में अपने वाहनों का परीक्षण करने की अनुमति देता है।

The Minister said Star Rating of Indian Cars based on Crash Tests is extremely crucial not only to ensure structural and passenger safety in cars, but to also increase the export-worthiness of Indian automobiles. He said the testing protocol of Bharat NCAP shall be aligned with Global Crash Test Protocols factoring in the existing Indian regulations, allowing OEMs to get their vehicles tested at India’s own  in-house testing facilities.

श्री गडकरी ने कहा कि भारत- एनसीएपी, भारत को विश्व में नंबर 1 ऑटोमोबिल केंद्र बनाने के मिशन के साथ हमारे ऑटोमोबिल उद्योग को आत्मनिर्भर बनाने में एक महत्वपूर्ण साधन साबित होगा।

Shri Gadkari said Bharat NCAP will prove to be a critical instrument in making our automobile industry Aatmanirbhar with the mission of making India the Number 1 automobile hub in the world.

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।

*****

Comments

This week popular schemes

ISRO NAVIC GPS App Download : Indian Regional Navigation Satellite System (IRNSS)

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची। ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम ?

Booking of Air tickets by Central Government employees for LTC purpose by three Government owned firms viz. Balmer Lawrie, Ashoka Travels and IRCTC

Booster Dose of Covid Vaccine कोविड वैक्सीन की बूस्टर खुराक

Interest Subsidy Scheme on Educational Loans शिक्षा ऋणों पर ब्याज राजसहायता योजना

Online Application for various post on Deputation basis Apply 05/08/2022

Telangana 2BHK Housing Scheme Application Form PDF Download Online

Apply Online for State Health Card in Uttar Pradesh under UP SECTS Scheme

Vacant Posts of Teachers प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च शिक्षा संस्थान में अध्यापकों के रिक्त पद