Railways Announce Bharat Gaurav Trains To Boost Tourism रेल मंत्री ने ‘भारत गौरव ट्रेनों’ की शुरुआत करने की घोषणा की

Railways Announce Bharat Gaurav Trains To Boost Tourism रेल मंत्री ने ‘भारत गौरव ट्रेनों’ की शुरुआत करने की घोषणा की

Ministry of Railways रेल मंत्रालय

Railway Minister Shri Ashwini Vaishnaw announces introduction of ‘Bharat Gaurav Trains’

रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव ने ‘भारत गौरव ट्रेनों’ की शुरुआत करने की घोषणा की

Bharat Gaurav Trains to showcase India’s rich cultural heritage and magnificent historical places to people of India and world

भारत गौरव ट्रेनों से भारत और दुनिया के लोगों को भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और भव्य ऐतिहासिक स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे

To help tap vast tourism potential of India भारत की विशाल पर्यटन क्षमताओं के दोहन में मदद मिलेगी

Service Provider to offer all inclusive package to tourists सेवा प्रदाता पर्यटकों को सभी समावेशी पैकेज की पेशकश करेगा

Posted On: 23 NOV 2021 3:57PM by PIB Delhi

Shri Ashwini Vaishnaw, Minister of Railways, announced today the introduction of theme-based tourist circuit trains Bharat Gaurav Trains. Speaking to the media in a press conference, he said that these trains will help realise the vision of Prime Minister Shri Narendra Modi to  showcase India’s rich cultural heritage and magnificent historical places to the people of India and the world. He further added that the core strength of the professionals of tourism sector would be leveraged to develop/identify tourist circuits and run theme- based trains to tap the vast tourism potential of India.

Bharat Gaurav Trains
रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव ने आज विषय आधारित पर्यटक सर्किट ट्रेनों भारत गौरव ट्रेन शुरू करने की घोषणा की है। एक प्रेसवार्ता में मीडिया को संबोधित करते हुए, उन्होंने कहा कि इन ट्रेनों से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के भारत और दुनिया के लोगों को भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत व भव्य ऐतिहासिक स्थल दिखाने का विजन साकार करने में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि पर्यटन क्षेत्र के पेशेवरों की मुख्य क्षमता टूरिस्ट सर्किट्स के विकास/ पहचान और भारत की व्यापक पर्यटन संभावनाओं के दोहन के लिए विषय आधारित ट्रेनें चलाने में सहायक होगी।

Scope 
कार्य क्षेत्र:
  • Service Provider would be free to decide theme like Guru Kripa trains for covering important places of Sikh culture, Ramayana trains for places connected with Lord Shri Ram etc.
  • सेवा प्रदाता सिख संस्कृति के अहम स्थलों को कवर करने के लिए गुरु कृपा ट्रेन, भगवान श्रीराम से जुड़े स्थानों के लिए रामायण ट्रेन आदि जैसे विषय निर्धारित करने के लिए स्वतंत्र होंगे।
  • Service Provider to offer all inclusive package to tourist including rail travel, hotel accommodation, sightseeing arrangement, visit to historical/heritage sites, tour guides etc.
  • सेवा प्रदाता पर्यटकों को रेल यात्रा, होटल विश्राम, दृश्य देखने की व्यवस्था, ऐतिहासिक/ विरासत स्थलों का भ्रमण, टूर गाइड आदि सहित सभी समावेशी पैकेज की पेशकश करेगा।
  • Full flexibility to decide package cost based on level of services being offered.
  • प्रदान की जाने वाली सेवाओं के स्तर पर आधारित पैकेज की लागत निर्धारित करने के लिए पूरा लचीलापन।
  • Choice of coaches suiting the clientele, different segments like luxury, budget etc.

  •  ग्राहकों के लिए लग्जरी, बजट आदि विभिन्न खंडों के कोचों का विकल्प।

  • Free to design/furnish interior of the coaches based on the theme.

  • विषय आधारित कोचों के डिजाइन/ आंतरिक साज सज्जा के लिए स्वतंत्र।

  • Branding and advertisement permitted both inside and outside of train.

  • ट्रेन के भीतर और बाहर दोनों जगह ब्रांडिंग और विज्ञापन के लिए अनुमति।

  • Train composition will be of 14 to 20 coaches including 2 SLRs(Guard Vans).

  • ट्रेन संयोजन में 2 एसएलआर (गार्ड वैन) सहित 14 से 20 कोच शामिल होंगे।
Process प्रक्रिया :

  • Easy one step transparent online registration process. Registration fee of Rs 1 (One) Lakh only.

  • एक स्टेप वाली आसान पारदर्शी ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया। पंजीकरण शुल्क मात्र 1 लाख  रुपये।

  • Allotment of coaches to all eligible applicants subject to availability. Priority to be based on the Rake Security Deposit Time and Date. Rake Security Deposit of Rs 1 (one) Crore per rake.

  • सभी पात्र आवेदकों को कोचों का आवंटन उपलब्धता पर निर्भर है। रैक सिक्योरिटी डिपॉजिट टाइम और डेट के आधार पर प्राथमिकता दी जाएगी। रैक सिक्योरिटी डिपॉजिट 1 लाख रुपये प्रति रैक है।
  • Individual, Partnership Firm, Company, Society, trust, JV/Consortium (Unincorporated/Incorporated) are eligible.
  • वैयक्तिक, भागीदार कंपनी, कंपनी, सोसायटी, ट्रस्ट, जेवी/ कंसोर्टियम (अनइन्कॉरपोरेटेड / इन्कॉपोरेटेड) पात्र हैं।
  • Right to Use charges and Haulage charges notified in the policy for Service Provider to work out his business model.

  • सेवा प्रदाता के लिए अपना व्यावसायिक मॉडल तैयार करने की नीति में राइट टू यूज चार्जेस और हॉलेज चार्जेस अधिसूचित कर दिए गए हैं।

  • Right to Use Period: 2-10 years.

  • राइट टू यूज अवधिः 2-10 वर्ष।

Customer Support ग्राहक सहायता:

Customer Support Units to be made functional in the field for hand holding the service provider and for smooth implementation of this scheme.

सेवा प्रदाता को सहायता और इस योजना के सुगम कार्यान्वयन के लिए क्षेत्र में ग्राहक सहायता इकाइयां शुरू कर दी गई हैं।

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****

Comments

This week popular schemes

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

ISRO NAVIC GPS App Download : Indian Regional Navigation Satellite System (IRNSS)

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची। ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम ?

Coal India Limited has released Management Trainee MT Recruitment Online Form 2022

Income Tax Rule 30 D effect from the 1st July, 2022 : Income-Tax (19th Amendment) Rules, 2022

ITI / Non ITI Trade Apprentice Recruitment 2022 for 338 posts in Naval Dockyard

Policy of e-auction for Commercial Earing , Non-Fare Revenue (NFR) contracts launched by Shri Ashwini Vaishnaw

Launch of National Cyber Crime Reporting Portal

2nd Round of E-Counselling for Admission in Newly Approved 10 Sainik Schools to fill up 534 vacancies

Government Employees News : Kerala launches medical insurance for govt employees, pensioners