Rajasthan Housing board जयपुर और भिवाड़ी में बनेंंगे 2558 सस्ते फ्लैट 

राजस्थान आवासन मंडल (Rajasthan Housing board) राजधानी जयपुर के प्रताप नगर, सेक्टर 8 में आवासीय योजना और अलवर के भिवाड़ी (Bhiwadi) में मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत 2558 फ्लैट्स बनाएगा. इसके साथ ही कोचिंग हब (Coaching hub)  के पास स्टूडियो अपार्टमेंट के रूप में 300 फ्लैट बनाए जाएंगे. हाउसिंग बोर्ड के संचालन मंडल के अध्यक्ष शांति धारीवाल की अध्यक्षता में पिछले दिनों हुई 247वीं बैठक में यह निर्णय लिए गए. वहीं बैठक में मंडल में संविदा पर 22 जेईन (सिविल) संविदा पर भर्ती करने, मंडल के वृत्त व खंड कार्यालयों के पुर्नगठन सहित कई निर्णय लिए गए. इसके साथ ही आवासीय अभियंता के पदों पर पदोन्नति के लिए अनुभव में छूट भी दी गई है. इसके अलावा मंडल के वृत्त व खंड कार्यालयों का पुर्नगठन करने का फैसला भी हुआ.

आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत जयपुर में सेक्टर-8 प्रताप नगर में ईडब्लूएस के 177 फ्लैट और एलआईजी के 130 फ्लैट बनेंगे. इनकी कीमत क्रमशः 7 लाख 11 हजार और 11 लाख 11 हजार रहेगी. इसी तरह मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत ही सेक्टर 26, प्रताप नगर में ईडब्लूएस के 726 और एलआईजी के 620 फ्लैट सहित कुल 1346 फ्लैट बनेंगे. इनकी कीमत क्रमशः 7 लाख 65 हजार और 11 लाख 10 हजार रहेगी.

Rajasthan Housing board

बोर्ड भिवाड़ी में बनाएगा 272 एलआईजी फ्लैट

भिवाड़ी के अरावली विहार योजना में मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत ही 808 फ्लैट बनेंगे. इनमें ईडब्लूएस के 536 और एलआईजी के 272 फ्लैट बनेंगे. इनकी कीमत क्रमशः 7 लाख 1 हजार और 10 लाख 42 हजार रहेगी. जयपुर में बनने वाले फ्लैट जी+12 और भिवाड़ी के फ्लैट जी+3 होंगे.

बोर्ड की बैठक में ये भी लिए निर्णय

  • मंडल के 125 से अधिक निर्माणों के पर्यवेक्षण और गुणवत्ता एवं समय पर पूरा कराने के लिए मंडल सेवा नियमों के अनुसार 22 जेईएन (सिविल) नई भर्तियों के होने तक अनुबंध पर रखे जाने का निर्णय लिया गया.

  • भूमि की अनुपलब्धता, न्यूनतम निर्माण कार्य और कार्मिकों की अत्यधिक कमी को देखते हुए मंडल के वृत्त एवं खंड कार्यालयों का पुनर्गठन किए जाने का निर्णय लिया गया.

  • अभी आवासीय अभियंता, वरिष्ठ लेखाधिकारी, लेखाधिकारी, वरिष्ठ कार्मिक प्रबंधक, सहायक सचिव के 20 पदों पर पदोन्नति के लिए उनके पदोन्नति के निर्धारित अनुभव में 1/3 अवधि की शिथिलता प्रदान करने का निर्णय लिया गया.

बोर्ड ने 116 सम्पत्तियां बेच 14.59 करोड़ रुपये कमाए

राजस्थान आवासन मंडल ने हाल ही में बुधवार नीलामी उत्सव ई-बिड सबमिशन योजना में 116 सम्पत्तियां बेची. इससे मंडल को 14 करोड़ 59 लाख का राजस्व मिला. इसमें जयपुर वृत्त प्रथम, द्वितीय और तृतीय में 88 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 10 करोड़ 50 लाख का राजस्व मिला. जोधपुर वृत्त प्रथम और द्वितीय में 7 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 1 करोड़ 39 लाख का राजस्व मिला. बीकानेर वृत्त में 4 सम्पत्तियां बिकी, जिससे मण्डल को 51 लाख का राजस्व मिला. उदयपुर वृत्त में 13 सम्पत्तियां बिकी. उससे मण्डल को 1 करोड 16 लाख का राजस्व मिला. अलवर वृत्त में 3 सम्पत्तियों से मण्डल को 75 लाख का राजस्व मिला और कोटा वृत्त में 1 सम्पत्ती बिकी, जिससे मण्डल को 28 लाख का राजस्व मिला.

Source: https://hindi.news18.com/news/rajasthan/jaipur-housing-board-will-build-2558-houses-in-jaipur-and-bhiwadi-dream-of-cheap-house-will-come-true-3688460.html

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****