Antar Jati Vivah Yojana Bihar 2021 बिहार अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना

आज हम आपको बिहार अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत ऑनलाइन व ऑफलाइन आवेदन की पूरी जानकारी देंगे। इच्छुक आवेदक अब ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर इंटर कास्ट मैरिज एप्लीकेशन फॉर्म भर सकते हैं। अंतर्जातीय विवाह योजना के अंतर्गत सरकार नवविवाहित जोड़ो को 2.5 लाख रुपये प्रोत्साहन के रूप में प्रदान करती है। इसका मुख्य उद्देश्य समाज में जातिवाद को खत्म करना है। क्योंकि आजकल के समय में बहुत से युवक/ युवतियां अंतरजातीय विवाह कर रहें है।

परन्तु अभी भी समाज में ऐसे जोड़ो को सम्मान नहीं मिलता और उनके घरवाले ही उनके खिलाफ हो जाते हैं। ऐसे में सरकार द्वारा उन्हें प्रोत्साहन राशि देकर उनके आत्मबल को बढ़ावा दिया जाता है। जिससे नवविवाहित जोड़े भी शादी के बाद अपनी आर्थिक जरूरतों को पूरा कर सके। अधिक जानकारी हेतु आगे पढ़ना जारी रखें।

Antar Jati Vivah Yojana Bihar

Antar Jati Vivah Yojana Form PDF Download

भारत सरकार की अंतर जाति विवाह लाभ योजना को देश के सभी राज्यों में अलग-अलग नामों से लॉन्च किया गया है। योजना का मुख्य उद्देश्य यही है कि समाज में बढ़ रही जातिवाद कुरीतियों तथा भेदभाव को कम करके अनुसूचित जाति/ जनजाति व सामान्य वर्ग के बीच आपसी भाईचारा का माहौल बन सके। क्योंकि हम सभी जानते है कि ऐसे जोड़े जो अपनी मर्जी से अन्तर्जातीय शादी कर लेते है। बाद में उनके परिवार वाले ही उनका यह रिश्ता स्वीकार नहीं करने पर उन्हें घर से निकाल देते है। ऐसे में सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता उनको सक्षम बनाती है। जिससे नवविवाहित जोड़े अपने भविष्य को सवार सकते हैं।

इसलिए सभी राज्य सरकारें जो भी अंतरजातीय विवाह कर रही हैं उनको बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहन राशि प्रदान करती है। ताकि ज्यादा से ज्यादा युवा Antar Jati Vivah Yojana का लाभ उठाकर समाज से जातिवाद को खत्म कर सके। इसी कड़ी में बिहार सरकार द्वारा भी Dr. Ambedkar Scheme for Inter-Caste Marriages Scheme के तहत अंतरजातीय विवाह जोड़े को प्रोत्साहन प्रदान कर रही है। जिसका सीधा फायदा आम जनता को मिलता है।

बिहार अंतर्जातीय विवाह पुरस्कार योजना 2021

Antar Jati Vivah Yojana 2021 Bihar के अंतर्गत अगर कोई गैर अनुसूचित जाति का व्यक्ति अनुसूचित जाति के व्यक्ति से विवाह करता है तो उसे ढाई लाख रूपये प्रोत्साहन राशि के रूप में दिए जाएंगे। योजना का लाभ प्राप्त करने के हेतु वार्षिक आय सीमा 3.50 लाख रूपये निर्धारित की गयी है।

Benefits of Bihar Inter-caste Scheme:

  • योजनान्तर्गत लाभार्थी जोड़ो को 2-5 लाख रूपये प्रोत्साहन राशि के रूप में दिए जाएंगे।
  • कई सरकारी योजनाओं का लाभ भी दिया जायेगा।
  • अस्पृश्यता निवारण रोकने के लिये अन्तर्जातीय विवाह को प्रोत्साहन देना सरकार का उद्देश्य है।
  • समाज से जातिवाद खत्म किया जायेगा।

अंतर जाति विवाह लाभ योजना हेतु पात्रता/ योग्यता शर्ते

बिहार सरकार द्वारा Antar Jati Vivah Yojana 2021 को शुरू करने के लिए अपने नागरिकों को शुभ विवाह अंतरजातीय संबंध से करते हैं उन्हें सरकार द्वारा नियम अनुसार सहायता राशि प्रदान की जाती है, जिसके अंतर्गत निम्नलिखित नियम बनाए गए हैं:

  • आवेदनकर्ता भारत का नागरिक व बिहार राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए लड़की की आयु कम से कम 18 वर्ष व लड़के की आयु 21 वर्ष होनी चाहिए।

  • जोड़ो में से किसी एक को अनुसूचित जाति/ जनजाति से सम्बंधित होना व दूसरे को सामान्य जाति से सम्बंधित होना अनिवार्य है। 

  • इस योजना का लाभ सिर्फ उन्हीं जोड़ो को मिलेगा, जिन्होंने पहली बार शादी की है। 

  • शादी करने के पश्चात एक साल के भीतर योजना हेतु पंजीकरण करना आवश्यक है।

इंटर कास्ट मैरिज स्कीम के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड (दुल्ला और दुल्हन)
  • वोटर आईडी
  • पैन कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रणाम पत्र
  • विवाह प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता पासबुक (जॉइंट अकाउंट)
  • विवाह की साथ में संयुक्त फोटो

बिहार अंतर जाति विवाह योजना 2021 में आवेदन कैसे करें?

  • इस योजना के तहत पुरस्कार राशि प्राप्त करने के लिए आवेदनकर्ता को सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

  • वेब होमपेज पर आपको अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन हेतु ऑनलाइन आवेदन फार्म दिखाई देगा।

  • दिए गए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म को ध्यानपूर्वक भरे।

  • कोई भी जानकारी गलत नहीं होनी चाहिए, यदि ऐसा होता है तो आपका फॉर्म गलत माना जाएगा।

  • विवाहित दम्पत्ति में वर अथवा वधु, जिसमें एक सवर्ण हो एवं दूसरा अनुसूचित जाति का हो इससे सम्बंधित सभी दस्तावेजों को ऑनलाइन सबमिट करें।

  • आवेदन के साथ विवाह, उम्र, जाति एवं मूल निवास प्रमाण पत्र संलग्न होने चाहिये।

  • आवेदन पत्रों के परीक्षण के बाद, दम्पत्तियों का चयन किया जायेगा। जिसके बाद उन्हें इस योजना का लाभ दिया जायेगा।

अंतर जाति विवाह लाभ आवेदन फार्म pdf Bihar

Bihar Antar Jati Vivah Yojana 2021 के तहत ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले निर्धारित आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा। उसके बाद, फॉर्म में मांगी गयी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरकर ऊपर दिए गए जरूरी डॉक्यूमेंट अटैच करने होंगे। इस भरे हुए आवेदन फॉर्म को कार्यालय ग्राम विकास अधिकारी या अन्य सम्बंधित अधिकारी को जमा कर सकते हैं। योजना का लाभ लेने के लिये जिलाधिकारी को प्रार्थना-पत्र प्रस्तुत करना चाहिये।

डॉ अंबेडकर फाउंडेशन अंतरजातीय विवाह योजना

भारत सरकार द्वारा Dr. Ambedkar Scheme for Inter-Caste Marriages की शुरुआत की गई। जिसके अंतर्गत जनरल कैटेगरी का लड़का या लड़की व अनुसूचित जाति/ जनजाति वर्ग की लड़का और लड़की विवाह करता है तो उसे बिहार सरकार द्वारा ₹50,000 की सहायता राशि तथा डॉक्टर भीमराव अंबेडकर फाउंडेशन के तहत ₹2,00,000 तक की सहायता राशि प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत कुल मिलाकर लाभार्थी दम्पति को 2.5 लाख रुपये प्रोत्साहन के तौर पर दिए जाते हैं। राज्य में बहुत से ऐसे व्यक्ति होते हैं जो अपनी पसंद से शादी करना चाहते हैं या फिर कर लेते हैं। लेकिन उसके परिवार वाले इस रिश्ते को स्वीकार नहीं कर पाते हैं तथा उनसे घर से बाहर निकाल देते हैं। इस स्थिति में सरकार द्वारा जोड़ों को सहायता राशि प्रदान की जाती है। 

Source: http://ambedkarfoundation.nic.in/index.html#

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे।
*****