PRADHAN MANTRI NATIONAL BAMBOO MISSION , प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बास मिशन

PRADHAN MANTRI NATIONAL BAMBOO MISSION , प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बास मिशन
    
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बांस योजना की शुरुआत की गई है , जैसा की आप लोगों को पता है भारत में प्लास्टिक काफी ज्यादा बढ़ गई है इसको रोकने के लिए सरकार ने प्लास्टिक को बंद भी कर दिया है लेकिन इसकी जरूरत लोगों को है जिस वजह से अभी भी प्लास्टिक का उपयोग किया जा रहा है , इस समस्या का समाधान सरकार ने राष्ट्रीय बांस योजना को लाकर किया है । प्लास्टिक के उपयोग को कम करने या प्लास्टिक के उपयोग को पूरी तरह से खत्म करने के लिए बास बहुत अच्छा उपाय है बास के द्वारा बहुत सारे पदार्थ बनाए जा सकते हैं जिसका उपयोग प्लास्टिक से बने पदार्थों की जगह पर किया जा सकता है ।
Pradhan+Mantri+Bamboo+Mission
इस पोस्ट से सम्बंधित कुछ मुख्य बातें।  
  • प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बास मिशन
  • राष्ट्रीय बंबू मिशन की आवश्यकता
  • राष्ट्रीय बंबू मिशन के अंतर्गत सब्सिडी
  • प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बंबू मिशन के लिए ऑनलाइन आवेदन किस प्रकार से करें ?
प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बांस योजना के तहत सरकार बांस के रोपण को प्रोत्साहित करेगी और बांस की खेती करने वाले किसानों को ₹120 प्रति पौधे के रूप में आर्थिक मदद के तौर पर दिया जाएगा । इस योजना का नाम राष्ट्रीय बंबू मिशन ( Pm National Baboo Mission ) रखा गया है ।

इस योजना के तहत सरकार किसानों को एक बांस का पौधा लगाने पर ₹120 का अनुदान प्रदान करेगी , अगर कोई व्यक्ति इसका बिजनेस करना चाहता है तो सरकार के द्वारा सब्सिडी के तौर पर अनुदान दिए जाने की व्यवस्था भी की गई है । इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्लास्टिक के इस्तेमाल को कम करना या फिर सिंगल यूज़ प्लास्टिक को पूरी तरह से बंद करना है ।

नोट :- खादी ग्रामोद्योग आयोग के द्वारा बांस की बोतल भी लांच की गई है यानी आप समझ सकते हैं बस एक ऐसा प्राकृतिक स्रोत बन चुका है जिसे हम बहुत सारे पदार्थ बना सकते हैं जहां पर हम प्लास्टिक का उपयोग करते हैं वहां पर बांस से भी काम किया जा सकता है ।


राष्ट्रीय बंबू मिशन की आवश्यकता /NATIONAL BAMBOO MISSION

अगर अब भारत सरकार के द्वारा चलाई गई राष्ट्रीय बंबू मिशन के तहत लाभ लेना चाहते हैं या फिर राष्ट्रीय बंबू मिशन में शामिल होना चाहते हैं तो इसकी भी जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं । अगर आप इस मिशन के तहत शामिल होकर अपना एक अच्छा बिजनेस सेटअप स्टार्ट करना चाहते हैं तो यह मिशन आप लोगों के लिए काफी अच्छा हो सकता है , क्योंकि यही एक ऐसा जरिया है जिसकी बदौलत प्लास्टिक के उपयोग को कम किया जा सकता है और इसके ही बदौलत प्लास्टिक के इस्तेमाल को पूरी तरह से खत्म भी की जा सकती है ।

प्लास्टिक का ज्यादा उपयोग हमारे पर्यावरण के लिए हानिकारक है । सरकार राष्ट्रीय बंबू मिशन के तहत बांस की खेती और इसकी बिजनेस को काफी ज्यादा बढ़ावा दे रही है ।

सरकार के द्वारा बांस की खेती और बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए प्रत्येक जिले में एक अधिकारी तैनात किया गया है बंबू मिशन एग्रीकल्चर , फॉरेस्ट और इंडस्ट्री विभाग को सौंपा गया है ।


बांस से क्या-क्या बनाए जा सकते हैं ?

आप लोगों को बहुत अच्छे से पता है कि बांस का हमारे दैनिक जीवन में कितना सारा उपयोग है अगर आप ग्रामीण इलाके से बिलॉन्ग करते हैं तो इसकी जानकारी आपको काफी अच्छे से होगी ।

आजकल तो बांस के द्वारा पानी का बोतल भी बनाया जा रहा है , बांस के द्वारा काफी अच्छे अच्छे फर्नीचर भी बनाए जा रहे हैं , बांस के प्रयोग से हैंडीक्राफ्ट चीजें भी बनाई जा रही है और इसके प्रयोग से ज्वेलरी आदि जैसे सामान भी बनाए जा रहे हैं । और प्लास्टिक का इस्तेमाल कम करने या प्लास्टिक के इस्तेमाल को खत्म करने के लिए बांस के द्वारा बनाई गई इन चीजों का इस्तेमाल भी बढ़ रहा है लोग इसे पसंद भी करना शुरू कर चुके हैं , ऐसे में राष्ट्रीय बंबू मिशन के साथ जुड़ना आपके लिए एक फायदे का सौदा हो सकता है । अभी बांस की खेती सबसे अधिक चीन और वियतनाम में की जा रही है लेकिन भारत सरकार के राष्ट्रीय बंबू मिशन के आ जाने से भारत में भी बांस की खेती कहीं ना कहीं आने वाले समय में काफी ज्यादा बढ़ेगी , चीन और वियतनाम के द्वारा बांस के बहुत सारे ऐसे प्रोडक्ट बनाए जाते हैं और अनेकों देशों में बेचे भी जाते हैं ।

राष्ट्रीय बंबू मिशन के अंतर्गत सरकार के द्वारा किसानों को अलग-अलग प्रकार से सब्सिडी देने का प्रावधान किया गया है ।
  • राष्ट्रीय बंबू मिशन के अंतर्गत एक आंकड़े के अनुसार 3 वर्षों में औसतन ₹240 प्रति प्लांट की लागत आएगी जिसके तहत सरकार के द्वारा ₹120 प्रति प्लांट किसानों को सब्सिडी के रूप में दिया जाएगा ।
  • नॉर्थ ईस्ट को छोड़कर अन्य क्षेत्रों में बांस की खेती के लिए सरकार 50 फ़ीसदी रकम चुकाएगी और 50 फ़ीसदी रकम किसान को अपनी ओर से देना होगा ।
  • प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बंबू योजना ( Pm National Bamboo Mission ) के तहत हर एक जिले में नोडल अधिकारी बनाया गया है योजना से संबंधित अधिक जानकारी आप अपने नोडल अधिकारी से भी प्राप्त कर सकते हैं ।
  • किसानों को जो 50 फ़ीसदी की सब्सिडी दी जाएगी उसमें 60 फ़ीसदी की सब्सिडी केंद्र सरकार की और 40 फ़ीसदी की सब्सिडी राज्य सरकार की होगी, जबकि नॉर्थ ईस्ट के इलाकों के लिए यह रकम 60 फ़ीसदी सरकार और 40 फ़ीसदी किसान का रहेगा।
  • नार्थ ईस्ट के किसानों के लिए जो 60 फ़ीसदी सब्सिडी दी जाएगी उसमें से 90 फ़ीसदी का भुगतान केंद्र सरकार के द्वारा और 10 फ़ीसदी का भुगतान राज्य सरकार के द्वारा किया जाएगा ।
राष्ट्रीय बांस योजना से की जा सकती हैं जबरदस्त कमाई । प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बंबू मिशन ।

आने वाले समय में बांस की मांग कितनी ज्यादा होने वाली है, तो इसमें कमाई का भी अच्छा मौका आप लोगों के सामने है। यदि बात की जाए तो एक हैक्टेयर में लगभग 15 से 2500 बांस के पौधे लगाए जा सकते हैं , एक से दूसरे पौधे की बीच की दूरी लगभग 2.5 मीटर की रखनी होती है इस हिसाब से देखा जाए तो एक हेक्टेयर में करीबन 1500 पौधे लगाए जा सकते हैं ( यह संख्या बढ़ाई भी जा सकती है अगर पौधों की बीच की दूरी कम कर दी जाए तो ) ।

एक पौधे से दूसरे पौधे की बीच की दूरी जो 2.5 मीटर की होती है इस बीच की दूरी में आप दूसरे फसल भी ऊगा जा सकते हैं और इससे भी कमाई की जा सकती है । इस हिसाब से अगर मुनाफे की बात करें तो 4 साल बाद 3 से 3.5 लाख रुपए की कमाई तो बहुत ही आसानी से हो जाएगी और आपने जो अतिरिक्त पौधे लगाए हैं उससे भी कमाई की जा सकती है । बांस की खेती में सबसे बड़ी यह बात होती है कि इसके अंतर्गत हर साल प्लांटेशन नहीं करनी होती है क्योंकि बांस की खेती लगभग 40 वर्ष तक चलती है ।

नोट :- अगर आप भी बांस की खेती करना चाहते हैं तो आज ही अपने नोडल ऑफिसर से संपर्क कर इसके लिए आवेदन करें सरकार से सब्सिडी प्राप्त कर बांस की खेती शुरू कर दें ।

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बंबू मिशन के लिए ऑनलाइन आवेदन किस प्रकार से करें ?

Farmer Registration Under National Bamboo Mission

अगर आप भी प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बंबू मिशन के तहत अपना रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको निम्नलिखित प्रक्रिया अपनानी होगी ।
  • सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट https://nbm.nic.in/ पर जाना होगा ।
  • जैसे ही आप वेबसाइट पर जाएंगे आपको सबसे ऊपर में Farmer Registration का एक लिंक दिखेगा ।
  • आपको Farmer Registration के लिंक पर क्लिक करना है जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने रजिस्ट्रेशन पेज खुल कर आ जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको अपनी जानकारी दर्ज करनी होगी सबसे पहले अपने राज्य का चयन , उसके बाद अपने जिला का चयन , और तहसील का चयन करने के बाद आपको अपने गांव का चयन करना होगा । अब आपको फाइनेंसियल ईयर की जानकारी दर्ज करनी होगी फार्मर का नाम दर्ज कर कुछ जानकारी दर्ज करनी होगी ।
  • ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर और किसान की कैटेगरी दर्ज कर पिन कोड डाल अपना रजिस्ट्रेशन कर लेना होगा ।
  • Is Aadhaar card & Bank Account linked का एक ऑप्शन देखने को मिला होगा अगर आपके आधार कार्ड के साथ आपका बैंक अकाउंट लिंक है तो उस पर आप को ठीक कर सबमिट कर देंगे ।
  • Form Submit करते ही आपका रजिस्ट्रेशन राष्ट्रीय बंबू मिशन के अंतर्गत हो चुका है और अधिक जानकारी के लिए आप संबंधित अधिकारी या नोडल ऑफिसर से भी संपर्क कर सकते हैं ।
नोट :- ऐसी ही जानकारी पाते रहने के लिए आप हमारे इस वेबसाइट www.indiangovtscheme.com को फॉलो कर सकते हैं, अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया है तो इसे लाइक और शेयर भी कर सकते हैं।

*****

Comments

This week popular schemes

Swarnajayanti Gram Swarozgar Yojana 2020 स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना 2020

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लाभार्थी सूची 2021 Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List 2021

New Income tax e-filing Portal as part of the Integrated E- filing and Centralized Processing Centre 2.0 Project

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण सूची। ऐसे देखे लिस्ट में अपना नाम ?

Targets, Achievements/Progress of Beti Bachao Beti Padhao Yojana

Salient Features of Ayushman Bharat Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana

Uttar Pradesh One District One Product Training and Toolkit Scheme : उत्तर प्रदेश एक जनपद एक उत्पाद प्रशिक्षण एवं टूलकिट योजना

National Family Planning Programme Implementing Two Child Policy

State Bank of India SBI Apprentice Recruitment 2021 Apply Online

Government of India undertakes revision of the Wages/Honorarium of Anganwadi Workers