Kisan panjikaran online registeration : Up Agriculture

Kisan panjikaran online registeration : Up Agriculture

अगर आप एक किसान हैं और सरकार के द्वारा दी जाने वाली योजनाओं का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको अपना किसान पंजीकरण करना अनिवार्य है । ऐसा करने के लिए सरकार के द्वारा Up Agriculture , Kisan panjikaran की शुरुआत की गई।  किसानों के लिए सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए किसानों का Kisan Panjikaran होना काफी ज्यादा जरूरी है और Kisan Panjikaran up agriculture registration page पर जाकर कर सकते हैं।

kisan+panjikaran+online+registeration
क्या आप भी एक उत्तर प्रदेश के किसान हैं , क्या आपको भी dbt agriculture Up पर अपना Kisan Panjikaran करना है। 

भारत सरकार के द्वारा किसानों को लाभ देने के लिए बहुत सारी योजनाएं चलाई जाती हैं और इन योजनाओं का संचालन DBT Agriculture Department की देखरेख में किया जाता है ।

[post_ads_2]

Agriculture department का काम मुख्य रूप से किसानों के खाते में पैसे भेजने का ही होता है लेकिन DBT Agriculture Department website पर Kisan Panjikaran भी किए जाते हैं जिससे किसान की पहचान हो पाती है ।

up Agriculture department के द्वारा किसानों का पंजीकरण किया जाता है और इन किसानों का ब्यौरा इकट्ठा किया जाता है , ब्यौरा में किसानों से उनकी निजी जानकारी के साथ बैंक अकाउंट से संबंधित जानकारी भी ली जाती है । किसानों से बैंक की जानकारी इसलिए ली जाती है ताकि आने वाले समय में किसानों के खाते में स्थानांतरित की जाने वाली राशि Direct benefit transfer (DBT) के माध्यम से सीधे उनके खाते में भेजा जा सके ।

DBT AGRICULTURE INDIA

वैसे तो यह केंद्र सरकार की योजना है लेकिन Dbt Agriculture के तहत राज्य सरकार के अलग-अलग DBT Agriculture Portal बनाए जाते हैं ।

DBT Agriculture Portal के माध्यम से किसान बहुत सारे काम एक ही जगह से कर सकते हैं ।

Agriculture DBT Portal हर राज्य के लिए अलग-अलग होता है आपको यह ध्यान रखना होगा कि आप किस राज्य से हैं और आपको उसी राज्य के अनुरूप अपने DBT Portal की जानकारी प्राप्त करनी होगी ।

UP AGRICULTURE , पारदर्शी किसान सेवा योजना उत्तर प्रदेश सरकार ।

उत्तर प्रदेश के किसानों को सरकार के द्वारा बहुत सारी योजनाओं का लाभ दिया जाता है इन योजनाओं का लाभ देने का काम पारदर्शी किसान सेवा योजना के तहत upagriculture.com की माध्यम से की जाती है ।

पारदर्शी किसान सेवा योजना उत्तर प्रदेश सरकार की सेवाएं

upagriculture.com की सहायता से उत्तर प्रदेश के किसानों का Kisan Panjikaran ही नहीं किया जाता है बल्कि उन किसानों को बहुत सारी सेवाएं भी दी जाती हैं ।

किसानों के लिए upagriculture.com के द्वारा दी जाने वाली सेवाएं हैं
  •  किसान पंजीकरण (Kisan Panjikaran)
  •  पंजीकरण ग्राफ
  •  पंजीकरण की रिपोर्ट
  •  किसान सहायता
  •  सुझाव एवं शिकायतें
  •  लाभ वितरण हेतु चयनित कृषक
  •  अनुदान खेतों में भेजने की प्रगति जाने
  •  लाभार्थियों की सूची
  •  अन्य सूचनाएं
  •  सूखा राहत की प्रगति
  •  सफलता की कहानी
  •  पंजीकरण की प्रगति
  •  कहां किस को क्या लाभ मिला
  •  महत्वपूर्ण योजनाओं में लाभ वितरण
  •  कृषिको हेतु सुविधाएं एवं अनुदान
  •  प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना
  •  यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकाले
नोट :- इतने सारे काम हैं जो उत्तर प्रदेश के किसान केवल UP Agriculture की वेबसाइट upagriculture.com की सहायता से मात्र Kisan panjikaran करके प्राप्त कर सकते हैं ।

अगर आप उत्तर प्रदेश के अलावा किसी और राज्य से हैं तो दी जाने वाली सेवाएं थोड़ी बहुत अलग भी हो सकती है इसकी जानकारी आप अपने राज्य सरकार के DBT Agriculture Portal पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

Kisan Panjikaran करने से पहले हम आपको UP Agriculture Department के पोर्टल upagriculture.com पर दी जाने वाली सेवाओं की जानकारी विस्तार में देना चाहेंगे और हम आपको यह भी बताना चाहेंगे कि kisan panjikaran करने के बाद आपको क्या लाभ देखने को मिलेगा ।

पंजीकृत किसान होने के फायदे । BENEFITS OF KISAN PANJIKARAN

Kisan Panjikaran करने के बाद आपको बहुत सारे फायदे मिलते हैं यह फायदे राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों के द्वारा आपको तभी दिया जाता है जब आपका Kisan Panjikaran हुआ होता है और आप एक पंजीकृत किसान होते हैं ।

KISAN PANJIKARAN के फायदे निम्नलिखित हैं ।

1. राज्य सरकार को यह पता चल जाता है कि आप एक किसान हैं : किसानों तक केंद्र सरकार या राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए यह जरूरी है कि सरकार को पता हो कि कौन किसान हैं और कौन किसान नहीं है ? अगर आप एक किसान हो तो यह तब ही साबित हो सकता है जब आपका kisan panjikaran हुआ हो ।

2. किसानों तक सीधा लाभ पहुंचाना: पंजीकृत किसान होने के बाद upagriculture.com के माध्यम से किसानों के खाते में जिस योजना के अनुरूप जितनी भी लाभ की राशि होती है Direct benefit transfer DBT के माध्यम से भेज दी जाती है ।

3. आगामी योजनाओं में किसानों को प्राथमिकता: केंद्र सरकार या राज्य सरकार के द्वारा अगर किसी भी योजना की शुरुआत की जाती है तो उसमें प्राथमिकता पंजीकृत किसान को ही दी जाती है ।

4. फसल बर्बादी पर अनुदान के लिए आवेदन : अगर किसी कारण से किसानों के फसल बर्बाद हो जाते हैं ,उदाहरण बिन मौसम बरसात या ओलावृष्टि , तो ऐसी स्थिति में भी केवल वही किसान अनुदान पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं जो एक पंजीकृत किसान हो ।

5. सुझाव एवं शिकायत : upagriculture.com के माध्यम से किसानों को किसी भी समस्या के ऊपर सुझाव या किसी प्रकार की शिकायत दर्ज कराने का ऑप्शन भी दिया जाता है ।

6. और भी बहुत सारे लाभ हैं जो आपको Kisan Panjikaran हो जाने के बाद UP Agriculture की आधिकारिक वेबसाइट upagriculture.com के माध्यम से दी जाती है ।

UPAGRICULTURE किसान पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज | REQUIRED DOCUMENT FOR KISAN PANJIKARAN

जब भी किसान अपना Kisan Panjikaran करवाने जाएं तो अपने पास निम्नलिखित दस्तावेज जरूर रख ले ।
  •  आधार कार्ड
  •  आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर ( पंजीकरण के वक्त रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाता है )
  •  बैंक खाता का विवरण आईएफएससी कोड इत्यादि (बैंक खाता पासबुक ले जाना ज्यादा सही रहेगा )
  •  किसान की निजी जानकारी और जमीन की जानकारी । (जमीन के दस्तावेज या एलपीसी रसीद की जरूरत हो सकती हैं )
ONLINE FARMER REGISTRATION UPAGRICULTURE.COM, UP AGRICULTURE REGISTRATION PAGE , 

किसान पंजीकरण कैसे करें ?

अगर आप उत्तर प्रदेश के किसान हैं और अपने अपनी सभी जानकारी और दस्तावेज तैयार कर ली है तो आप Kisan Panjikaran के लिए ऑनलाइन आवेदन upagriculture.com 81 की वेबसाइट पर कर सकते हैं ।

[post_ads]

HOW TO Kisan Panjikaran upagriculture
  • सबसे पहले UP Agriculture की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं ।
  • जैसे ही आप पंजीकरण करें पर क्लिक करते हैं ।
  • आपके सामने किसान पंजीकरण फॉर्म खुलकर आ जाएगा । फॉर्म में आपको अपनी सभी जानकारी दर्ज करनी होगी
  • किसान का बैंक अकाउंट की जानकारी भी दर्ज करें ।
  • बैंक अकाउंट की जानकारी मैं आपको अपना बैंक अकाउंट नंबर और आईएफएससी कोड के साथ आधार कार्ड संख्या भी दर्ज करना होगा ।
  • फॉर्म में सभी जानकारी दर्ज करें
  • किसान पंजीकरण फॉर्म में आप से जितनी भी जानकारी पूछी जाती है सभी जानकारी को ध्यान पूर्वक दर्ज करें और सबमिट करने से पहले उसे एक बार चेक जरूर करें ।
  • आवेदन फॉर्म को फाइनल सबमिट करें ।
  • जब आप की जानकारी पूरी तरीके से आवेदन फॉर्म में भर दी जाती है और आवेदन को पुनः वेरीफाई भी कर लिया जाता है तब आप अपने आवेदन फॉर्म को फाइनल सबमिट कर दें ।
नोट :- Final Submit करते ही आपको किसान पंजीकरण के तहत एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जाता है, इस पंजीकरण संख्या को कहीं सुरक्षित रख ले । क्योंकि यही संख्या आपकी पंजीकृत किसान संख्या है और इसी संख्या के बदौलत आपको सरकार के द्वारा दी जाने वाली सभी योजनाओं का लाभ दिया जाएगा ।

नोट :- अब आपका किसान पंजीकरण Agriculture Department India के तहत upagriculture में हो चुका है और अब आपको राज्य सरकार और केंद्र सरकार के द्वारा किसानों के लिए चलाई जाने वाली सभी योजनाओं का लाभ दिया जा सकेगा ।

ध्यान दें :- बहुत सारी केंद्र और राज्य सरकार की ऐसी योजनाएं हैं जिनका लाभ केवल पंजीकृत यानी Registered farmer को ही दिया जाता है इसी वजह से आपका किसान पंजीकरण करना काफी ज्यादा जरूरी है ।

UP AGRICULTURE STATUS

अगर आप अपना Registration UP Agriculture के तहत कर देते हैं और आपको किसी प्रकार के स्टेटस की जानकारी चाहिए तो आप UP Agriculture Status भी ऑनलाइन चेक कर सकते हैं ।
  •  उससे पहले आपको upagriculture की आधिकारिक वेबसाइट upagriculture.com पर जानी होगी ।
  •  upagriculture.com पर जाते ही आपको स्थिति जांच करने के बहुत सारे लिंक देखने को मिल जाएंगे ।
  •  आपको यहां पर एक ऑप्शन पंजीकरण की प्रगति देखने को मिलेगा , up agriculture status की जानकारी देखने के लिए पंजीकरण की प्रगति पर क्लिक करें ।
  •  अब यहां पर आप अपनी किसान पंजीकरण संख्या दर्ज कर अपने आवेदन की स्थिति , up agriculture status की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।
Source : http://upagripardarshi.gov.in/

नोट :- हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com पर ऐसी जानकारी रोजाना आती रहती है, तो आप ऐसी ही सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे वेबसाइट www.indiangovtscheme.com से जुड़े रहे
*****

Comments