Prime Minister Narendra Modi launched Swachhata Hi Seva-2019, partnered with the group of women to separate plastic waste प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्वच्छता ही सेवा-2019 का शुभारंभ किया महिलाओं के समूह के साथ प्लास्टिक कचरा अलग-अलग करने के कार्य में भागीदारी की

स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रधान मंत्री स्वच्छता ही सेवा-2019 का शुभारंभ किया इसके तहत प्रधान मंत्री ने कहा की भारत के सभी लोगो को अपने जीवन मे प्लास्टिक का उपयोग हमेशा के लिए खतम कर देना चाहिये। 
उन्होंने किसानों, सरपंचों, महिला समूहों और स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करते हुए, प्रधानमंत्री ने सभी नागरिकों से मांग करते हुए कहा कि वे अपने घरों, कार्यालयों और कार्यस्थलों को प्लास्टिक के एकल इस्तेमाल से मुक्त करें। पर्यावरण, पशुओं और जल जीवों के स्वास्थ्य पर ऐसे प्लास्टिक के खतरनाक प्रभावों की ओर लोगों का ध्यान खींचते हुए, उन्होंने कहा कि खरीददारी के लिए बाहर जाते समय कपड़े अथवा जूट के बैगों का इस्तेमाल करें। उन्होंने प्लास्टिक का उपयोग ना हो इस बात पर बल दिया 

पत्र सूचना कार्यालय
भारत सरकार
जल शक्ति मंत्रालय
11-सितम्बर-2019 18:24 IST

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्वच्छता ही सेवा-2019 का शुभारंभ किया महिलाओं के समूह के साथ प्लास्टिक कचरा अलग-अलग करने के कार्य में भागीदारी की

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज मथुरा में स्वच्छता पर एक व्यापक देशव्यापी जागरूकता अभियान - स्वच्छता ही सेवा (एसएचएस) 2019 का शुभारंभ किया। एसएचएस 2019 के तहत 

प्रधानमंत्री ने पशुधन आरोग्य विज्ञान मेले में भी गए, जहां उन्होंने गायों के पेट से प्लास्टिक कचरे को हटाने के लिए उनकी शल्य चिकित्सा देखी। इसके बाद उन्होंने उत्तर प्रदेश की महिलाओं के एक समूह के साथ बातचीत की, जो प्लास्टिक कचरे को अलग-अलग करके उन्हें रिसाईकिल-योग्य और गैर-रिसाईकिल-योग्य श्रेणियों में रखते हैं। प्रधानमंत्री ने खुद वहां प्लास्टिक कचरे को अलग-अलग करने के कार्य में भाग लिया।
सेवा+2019+का+शुभारंभ
लगभग 20,000 किसानों, सरपंचों, महिला समूहों और स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करते हुए, प्रधानमंत्री ने सभी नागरिकों से मांग करते हुए कहा कि वे अपने घरों, कार्यालयों और कार्यस्थलों को प्लास्टिक के एकल इस्तेमाल से मुक्त करें। पर्यावरण, पशुओं और जल जीवों के स्वास्थ्य पर ऐसे प्लास्टिक के खतरनाक प्रभावों की ओर लोगों का ध्यान खींचते हुए, उन्होंने कहा कि खरीददारी के लिए बाहर जाते समय कपड़े अथवा जूट के बैगों का इस्तेमाल करें और कार्यालयों में पानी पीने के लिए धातु अथवा मिट्ठी के गिलासों का इस्तेमाल करें। उन्होंने लोगों से कहा कि वे अपने आस-पास से प्लास्टिक के सभी कचरे को एक निर्धारित इकट्ठा करें और स्वच्छता ही सेवा के दौरान स्थानीय प्रशासन की सहायता से इसका सुरक्षित निपटारा सुनिश्चित करें।

जनसमूह को संबोधित करते हुए, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने स्वच्छ भारत मिशन के सकारात्मक प्रभावों के बारे में चर्चा करते हुए पूर्वी उत्तर प्रदेश में इन्सेफ्लाइटिस की घातक बीमारी को दूर करने में स्वच्छ भारत मिशन के योगदान के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता के दायरे में महत्वपूर्ण वृद्धि होने से ओडीएफ भारत की तर्ज पर भारत को प्लास्टिक कचरा से मुक्त करने का लक्ष्य पूरा हो सकेगा।

इस अवसर पर केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि पूरा विश्व उस दिन का बेसब्री से इंतजार कर रहा है जब भारत ओडीएफ बन जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वच्छता ही सेवा 2019 अभियान से प्लास्टिक कचरे और इसके संग्रहण, रिसाईकिलिंग और निपटारे के बारे में व्यापक जागरूकता कायम करने में अत्यधिक मदद मिलेगी और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के प्रेरणादायक नेतृत्व में पर्यावरण के संरक्षण के लिए एक नया जन आंदोलन बन जाएगा।

केन्द्रीय मछलीपालन, पशुपालन एवं दुग्ध उत्पादन मंत्री श्री गिरिराज सिंह, जल शक्ति राज्य मंत्री श्री रतन लाल कटारिया, राज्य के अन्य मंत्री और स्थानीय सांसद और विधायकों ने भी कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

*****

Comments

Popular Posts

Index of Eight Core Industries (Base: 2011-12=100) March, 2019

Index of Eight Core Industries (Base: 2011-12=100) February, 2019

kanya sumangla yojana apply online full process मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन अप्लाई करे।