Featured Post

World Tuberculosis (T.V.) Day On March 24 2019

Press Information Bureau  Government of India President's Secretariat 23-March-2019 14:10 IST President of India’s Message on ...

Saturday, February 16, 2019

PM visits Yavatmal in Maharashtra, Says Housing of All will be achieved by 2022 , प्रधानमंत्री ने महाराष्‍ट्र के यवतमाल का दौरा किया, कहा सबके लिए आवास का लक्ष्‍य 2022 तक प्राप्‍त कर लिया जाएगा

प्रधानमंत्री ने महाराष्‍ट्र के यवतमाल का दौरा किया, कहा सबके लिए आवास का लक्ष्‍य 2022 तक प्राप्‍त कर लिया जाएगा 

कंक्रीट से बने मकान मजबूत सपनों का मार्ग प्रशस्‍त करेंगे सुरक्षा बलों को पुलवामा आतंकी हमले को अंजाम देने वालों से निपटने के लिए खुली छूट दी गई: प्रधानमंत्री यवतमाल में 500 करोड़ रुपए मूल्‍य की सड़क परियोजना का शिलान्‍यास हमसफर अजनी (नागपुर)-पुणे ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया प्रधानमंत्री ने सहस्‍त्रकुण्‍ड एकलव्‍य मॉडल रिहायशी स्‍कूल का उद्घाटन किया
आवास+का+लक्ष्‍य+2022
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आज महाराष्ट्र के यवतमाल का दौरा किया। उन्होंने राज्य में कई परियोजनाओं का शुभारंभ किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी और महाराष्ट्र के मुख्‍यमंत्री श्री देवेंद्र फड़नवीस भी वहां उपस्थित थे।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के चुनिंदा लाभार्थियों को चाबियां सौंपी। उन्होंने बताया कि पीएमएवाई के तहत यवतमाल में लगभग 14500 नए मकान बनाए गए हैं। हम 2022 तक सबके लिए आवास के अपने लक्ष्य को प्राप्त करेंगे। 

उन्होंने महाराष्ट्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिला स्‍व सहायता समूहों को प्रमाण पत्र/चेक वितरित किए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यवतमाल में कार्यक्रम सभी को विकास की पंचधारा- बच्चों के लिए शिक्षा

प्रधानमंत्री ने बटन दबाकर 500 करोड़ रुपये मूल्‍य की एक सड़क परियोजना की आधारशिला रखी। उन्‍होंने वीडियो लिंक के जरिए हमसफर अजनी (नागपुर)-पुणे ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने जोर देकर कहा कि संपर्क विकास की कुंजी है तथा सड़क और रेलवे परियोजनाओं से यवतमाल और आसपास के क्षेत्रों के समग्र विकास में मदद मिलेगी।

एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “हम पुलवामा हमले पर गहरे दुख और पीड़ा से गुजर रहे हैं। महाराष्ट्र के दो बहादुर बेटों ने भी राष्ट्र के लिए अपना बलिदान दिया है। हमारी भावनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। हमने सुरक्षा बलों को भविष्य की कार्रवाई का समय, स्थान और तरीके तय करने के लिए पूरी आजादी दी है। अगर हम अपने संजोए सपनों को पूरा करने में सक्षम हैं या राष्‍ट्र का विकास कर पा रहे हैं, तो यह हमारे बहादुर सैनिकों के बलिदानों के कारण है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि सिकल सेल बीमारी पर शोध करने के लिए चंद्रपुर में एक रिसर्च सेंटर बनाया जा रहा है।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने सहस्त्रकुंड एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय का उद्घाटन किया। स्कूल परिसर 15 एकड़ में फैला है और इसमें सभी आधुनिक सुविधाएं हैं। उन्होंने आशा व्‍यक्‍त की कि स्कूल जनजातीय बच्चों की आकांक्षाओं को पूरा करेगा। जनजातीय क्षेत्रों में 1000 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय स्थापित करना उनके मिशन का एक हिस्सा है।

प्रधानमंत्री ने कहा, 'हम जनधन से लेकर वनधन तक जनजातियों के समग्र विकास के लिए विशेष रूप से प्रतिबद्ध हैं। जहां एक ओर जनधन ने गरीबों के वित्तीय समावेशन में मदद की है, वहीं वनधन सूक्ष्‍म वन उपज के जरिए गरीबों को अतिरिक्त आय दिलाने में मदद कर रहा है। हम सूक्ष्‍म वन उपज के मूल्य वर्धन के लिए वनधन केंद्र स्थापित कर रहे हैं, ताकि जनजातियों को उनकी उपज का बेहतर मूल्‍य मिल सके। हमने बांस को पेड़ के रूप को भी विमुक्‍त किया है, ताकि जनजाति के लोग बांस और उसकी उपज से अपनी आय में विविधता ला सकें ”।

हमारे स्वतंत्रता संग्राम में जनजातीय नायकों द्वारा किए गए बलिदानों को याद करते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा कि हम देश भर के संग्रहालयों और स्मारकों में उनकी यादों को संरक्षित रख रहे हैं।

PM visits Yavatmal in Maharashtra, Says Housing of All will be achieved by 2022 

Concrete homes will lead to concrete dreams: PM Security forces given free hand to deal with the perpetrators of Pulwama terror attack: PM Lays the Foundation Stone of Road Project in Yavatmal worth Rs 500 Crores Humsafar Ajni (Nagpur)-Pune Train flagged off Sahastrakund Eklavya Model Residential School inaugurated by PM 
Housing+of+All
The Prime Minister, Shri Narendra Modi, visited Yavatmal in Maharashtra today. He unveiled multiple projects in the state. Union Minister Shri Nitin Gadkari and CM of Maharashtra Shri Devendra Fadnavis was also present on the occasion.

PM handed over the keys to selected beneficiaries of the Pradhan Mantri Awas Yojana (PMAY). He said “About 14500 new houses are built at Yavatmal under PMAY. We will achieve our target of Housing for All by 2022. These concrete homes will lead to concrete dreams of people inhabiting them”.

He distributed certificates/cheques to women SHGs under Maharashtra State Rural Livelihoods Mission.

PM said that the program at Yavatmal is an extension of our effort to provide each and all the Panchdhara of development, that is education for children, livelihood to youth, medicine for senior citizens, irrigation to farmers and addressal of public grievances.

The PM laid the foundation stone of roads’ project worth Rs 500 Crores with the press of a button. He flagged-off Humsafar Ajni (Nagpur) - Pune Train through video link He emphasized that connectivity is the key to development and road and railway projects will help in overall development of Yavatmal and surrounding regions.

Addressing a public gathering, the PM said, “We are undergoing a deep sorrow and anguish over the Pulwama attack. Two brave sons of Maharashtra have also sacrificed their lives for nation. Our thoughts are with the bereaving families. Their sacrifices won’t go in vain. We have given security forces full freedom to choose a time, place and manner to decide the future course of action. If we are able to fulfil the dreams we aspired for or to develop nation it is because of the sacrifices of our brave soldiers.”

PM said that in order to conduct research on Sickle cell disease, a research center is being built at Chandrapur.

Sahastrakund Eklavya Model Residential School was inaugurated by PM on this occasion. The school campus is spread across 15 acres and has all modern amenities. He expressed hope that the School will fulfill the aspiration of tribal children. It is a part of his mission to set up 1000 Eklavya Model Residential Schools across tribal areas.

PM said “we are specially committed to the cause of overall development of tribals from Jandhan to Vandhan. While Jandhan has helped in the financial inclusion of the poor, Vandhan is helping in bringing additional income to the poor through Minor Forest Produce. We are setting up Vandhan Kendras for value addition to Minor Forest Produce so that the tribals get a better deal for their produce. We have also denotified bamboo as tree so that tribals can diversify their income from bamboo and its produce”. 

Recalling the sacrifices made by tribal heroes in our freedom struggle, PM said that we are preserving their memories in museums and memorials across the country.

Press Information Bureau 
Government of India
Prime Minister's Office
16-February-2019 15:43 IST
*****
banner
Previous Post
Next Post

0 comments:

Popular Posts