Featured Post

World Tuberculosis (T.V.) Day On March 24 2019

Press Information Bureau  Government of India President's Secretariat 23-March-2019 14:10 IST President of India’s Message on ...

Monday, January 14, 2019

Special arrangements for delegates of “Pravasi Bhartiya Diwas” for participating in the Kumbh Mela कुंभ मेला में ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ के प्रतिनिधियों के लिए विशेष व्यवस्था

Press Information Bureau 
Government of India
Ministry of Culture
14-January-2019 15:53 IST
Special arrangements for delegates of “Pravasi Bhartiya Diwas” for participating in the Kumbh Mela 

Special arrangements have been made for the delegates of “Pravasi Bhartiya Diwas” for participating in the Kumbh Mela at Prayagraj, Uttar Pradesh. The Pravasi Bharatiya Diwas is scheduled to commence at Varanasi, Uttar Pradesh on 21st January. Around ten thousand participants are expected to attend the colourful convention. On 24th January, the participants would arrive in Prayagraj to be the part of ongoing largest spiritual gathering on earth, the Kumbh, where arrangements are in place for holy bathing at Sangam. From there the participants would travel to Delhi to witness the 70th Republic Day Event.
Pravasi+Bhartiya+Diwas
Ganga Mahotsava, an annual much awaited cultural event showcasing culture and heritage is being also organised during January 21 to 23 at Ganga Ghats by Govt. of UP. Ganga Arti at Ghat of Kashi is well known among tourists. Special area has been reserved for PBD guests to enable them to witness and enjoy various events at the venues.

The spiritual capital of India Varanasi has geared up to welcome the people from all over the world who will be flocking in to participate in “Pravasi Bhartiya Diwas” scheduled to commence on January 21. This vibrant and colourful convention is meant to strengthen the engagement of the overseas Indian community with the Government of India and reconnect them with their roots. Itis 15th edition of the “Pravasi Bhartiya Diwas” which is organized on an interval of two years. During the Convention, selected overseas Indians are also honored with the prestigious Pravasi Bharatiya Samman Award to recognize their contributions to various fields both in India and abroad.The venue of 15th PBD Convention Varanasi or Benaras, (also known as Kashi) is one of the oldest living cities in the world.

The theme of PBD Convention 2019 is "Role of Indian Diaspora in building New India". Special arrangements have been made for delegates for their participation in ongoing Kumbh Mela Prayagraj and Republic day paradeat Delhi as well.Around ten thousand participants are expected to attend the colourful convention. The venue will be Trade facilitation centre (TFC) and craft museum at BadaLalpur in Varanasi. On 24th January, the participants would arrive in Prayagraj to be the part of ongoing largest spiritual gathering on earth, The Kumbh, where arrangements are in place for holy bathing at Sangam. From there the participants would travel to Delhi to witness the 70th Republic Day Event.

Ganga Mahotsava, an annual much awaited cultural event showcasing culture and heritage is being also organised during January 21 to 23 at Ganga Ghats by Govt. of UP. Ganga Arti at Ghat of Kashi is well known among tourist. For PBD guests some space will be reserved there.

पत्र सूचना कार्यालय 
भारत सरकार
संस्कृति मंत्रालय 
14-जनवरी-2019 17:06 IST
कुंभ मेला में ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ के प्रतिनिधियों के लिए विशेष व्यवस्था 

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेले में ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ के प्रतिनिधियों के लिए विशेष व्यवस्थाएं की गई हैं। प्रवासी भारतीय दिवस 21 जनवरी को वाराणसी में शुरू होने जा रहा है। इस सम्मेलन में 10 हजार लोगों के शामिल होने की उम्मीद है। प्रवासी भारतीय दिवस में भाग लेने वाले लोग प्रयागराज में आयोजित दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक मेले कुंभ में 24 जनवरी को शामिल होंगे। यहां संगम पर पवित्र स्नान करने की विशेष व्यवस्था है। प्रयागराज कुंभ मेले में शामिल होने के बाद प्रवासी भारतीय दिवस के लिए आए लोग दिल्ली जाएंगे जहां वे 70वें गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होंगे। 
कुंभ+मेला+में+‘प्रवासी+भारतीय+दिवस
यूपी सरकार द्वारा 21 से 23 जनवरी के बीच गंगा घाटों पर बहुप्रतीक्षित सालाना सांस्कृतिक कार्यक्रम गंगा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा, जिसमें हमारी संस्कृति और विरासत की झलक देखने को मिलेगी। काशी में घाटों पर गंगा आरती पर्यटकों में काफी लोकप्रिय है। प्रवासी भारतीय दिवस के मेहमानों के लिए विशेष जगह आरक्षित की गई है जहां से वे इस महोत्सव का आनंद उठा सकें।

भारत की आध्यात्मिक राजधानी वाराणसी प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में शामिल होने आए दुनिया भर के लोगों का स्वागत करने के लिए तैयार है। इस गुंजायमान और रंगारंग सम्मेलन का उद्देश्य देश के बाहर रह रहे भारतीय समुदाय को भारत सरकार से और उन्हें उनकी जड़ों से फिर से जोड़ना है। दो साल के अंतराल पर आयोजित होने वाला यह 15वां भारतीय प्रवासी दिवस है। सम्मेलन के दौरान चुनिंदा प्रवासी भारतीयों को देश और दुनिया में उनके योगदानों को पहचान दिलाने के लिए प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। 15वां प्रवासी भारतीय दिवस वाराणसी (बनारस और काशी के नाम से भी प्रसिद्ध) में आयोजित होगा, जो दुनिया के सबसे अधिक पुराने जीवंत शहरों में से एक है।

प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2019 का थीम ‘नये भारत के निर्माण में प्रवासी भारतीयों की भूमिका’ है। प्रवासी भारतीय दिवस के प्रतिनिधियों के लिए प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेला और दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने के लिए विशेष व्यवस्थाएं की गई हैं। वाराणसी के बदलापुर में व्यापार सुविधा केन्द्र और हस्तकला संग्रहालय में आयोजित होने वाले इस सम्मेलन में करीब 10 हजार लोगों के शामिल होने की उम्मीद है। 
banner
Previous Post
Next Post

0 comments:

Popular Posts