Featured Post

World Tuberculosis (T.V.) Day On March 24 2019

Press Information Bureau  Government of India President's Secretariat 23-March-2019 14:10 IST President of India’s Message on ...

Wednesday, January 2, 2019

Over 1.7 Lakh Bridges Inventorised under IBMS आईबीएमएस के अंतर्गत 1.7 लाख से अधिक पुलों को शामिल किया गया

Press Information Bureau 
Government of India
Ministry of Road Transport & Highways
01-January-2019 16:13 IST
Over 1.7 Lakh Bridges Inventorised under IBMS 

Shri Mandaviya says, their condition will be checked before and after monsoon every year

Union Minister of State for Road Transport & Highways, Shipping and Chemical & Fertilizers Shri Mansukh Mandaviya has said that the Ministry of Road Transport & Highways has inventorized 1,72,517 bridges/structures under Indian Bridge Management System (IBMS). These structures comprise 1,34,229 culverts, 32,806 minor bridges, 3,647 major and 1,835 extra-long bridges. Earlier there was no proper data available on these structures on the National Highways network.

Bridges+Inventorised+under+IBMS
The IBM System has been established to develop the data in digital form, to identify the number of bridges and other structures on National Highways, to carry out the condition survey and inventorization of bridges/structures and to identify the distressed bridges which need immediate attention and to sensitize the concerned implementation agency for taking corrective measures such as repair, rehabilitation reconstruction/ new construction etc.

The Minister said, the bridges /structure condition data will be collected twice a year during ‘Pre-Monsoon’ and ‘Post-Monsoon’ period for 3 years by using Mobile Bridge Inspection Units (MBIU). Eleven consultancy firms have been appointed for this purpose. The condition survey report and recommendation submitted by consultant will be used as input for granting permission for movement of over-dimension and overweight Vehicles(ODC/OWC) consignments on National Highways which has been made online by the Ministry as well as help in future management/repair/rehabilitation of the assets.

पत्र सूचना कार्यालय 
भारत सरकार
सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय 
01-जनवरी-2019 17:02 IST
आईबीएमएस के अंतर्गत 1.7 लाख से अधिक पुलों को शामिल किया गया 

श्री मंडाविया ने कहा कि प्रत्येक वर्ष मॉनूसन से पहले और बाद में पुलों की स्थिति की जांच की जाएगी 

केन्द्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग, नौवहन तथा रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री श्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने भारत पुल प्रबंधन प्रणाली (आईबीएमएस) के अंतर्गत 1,72,517 पुलों / संरचनाओं को शामिल किया है। इन संरचनाओं में 1,34,229 पुलिए (कल्वर्ट), 32,806 छोटे पुल, 3,647 बड़े पुल तथा 1,835 अधिक बड़े पुल शामिल हैं। पहले राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क के इन संरचनाओं के बारे में वास्तविक आंकड़े उपलब्ध नहीं थे।
आईबीएमएस+के+अंतर्गत+1.7+लाख से+अधिक+पुलों
आंकड़ों को डिजिटल रूप में विकसित करने, राष्ट्रीय राजमार्गों पर पुलों की पहचान करने, पुलों/संरचनाओं की स्थिति का सर्वेक्षण करने तथा सूची बनाने और कमजोर पुलों की पहचान करने तथा संबंधित एजेंसी को मरम्मत, पुनर्निर्माण या नया निर्माण के लिए सूचित करने के लिए आईबीएम प्रणाली का निर्माण किया गया है।

श्री मंडाविया ने कहा कि अगले तीन वर्षों तक प्रत्येक वर्ष मॉनसून के पहले और बाद में पुलों/संरचनाओं की वास्तविक स्थिति से संबंधित आंकड़ों को इकट्ठा किया जाएगा। इसके लिए मोबाइल ब्रिज इंस्पेक्शन यूनिट (एमबीआईयू) का उपयोग किया जाएगा। इस उद्देश्य के लिए 11 परामर्शदात्री कंपनियों की नियुक्ति की गई है। स्थिति सर्वेक्षण रिपोर्ट तथा कंपनियों के परामर्श के आधार पर अधिक ऊंचाई वाले तथा अधिक भार वाले वाहनों के परिवहन के संबंध में अनुमति दी जाएगी (ओडीसी/ओडब्ल्यूसी)। इससे संरचनाओं के भविष्य में प्रबंधन/मरम्मत/पुनर्निर्माण में मदद मिलेगी।
*****
banner
Previous Post
Next Post

0 comments:

Popular Posts