Featured Post

Indian Railway Service of Signal Engineers Officer takes over as Member (Signal & Telecom) Railway Board

Press Information Bureau  Government of India Ministry of Railways 18-April-2019 17:34 IST Shri N. Kashinath, Indian Railway Ser...

Wednesday, December 5, 2018

Ministry of Railways decides to Earmark reserved accommodation in trains for female passengers रेल मंत्रालय ने महिला यात्रियों के लिए ट्रेनों में आरक्षित सीटें निर्धारित करने का निर्णय लिया

Press Information Bureau 
Government of India
Ministry of Railways

04-December-2018 18:13 IST

Ministry of Railways decides to earmark reserved accommodation in trains for female passengers 

A reservation quota of six berths in 3 AC class of all Rajdhani/Duronto/fully Air Conditioned trains (having 3 AC class) should be earmarked for female passengers 
train for+female+passengers
Ministry of Railways has decided to earmark reserved accommodation in trains for female passengers in a bid to provide solace in their journey. In this context, it has been decided that a reservation quota of six berths in 3 AC class of all Rajdhani/Duronto/fully Air Conditioned trains (having 3 AC class) should be earmarked for female passengers, irrespective of their age, travelling alone or in a group of female passengers.

At present, the following facilities for the above mentioned subject are already available:-
  • A reservation quota of 6 Sleeper class berths in Mail/Express trains has been earmarked in third bay of the coach for female passengers irrespective of age, travelling alone or in a group of female passengers.
  • A reservation quota of 6 berths in 3AC class of Garib Rath Express trains has been earmarked for female passengers irrespective of age, travelling alone or in a group of female passengers.
  • In all trains having reserved sleeping accommodation, a combined quota of six lower berths per coach in Sleeper class and 3 lower berths per coach each in AC 3 tier and AC-2 tier classes has been earmarked for Senior Citizens, Female passengers of 45 years of age and above and pregnant women. In case of Rajdhani, Duronto and fully Air Conditioned/Express trains, the number of berths to be earmarked under this quota in 3AC is 4 lower berths per coach as against 3 lower berths per coach in normal Mail/Express trains.

पत्र सूचना कार्यालय 
भारत सरकार
रेल मंत्रालय 

04-दिसंबर-2018 19:46 IST

रेल मंत्रालय ने महिला यात्रियों के लिए ट्रेनों में आरक्षित सीटें निर्धारित करने का निर्णय लिया 

सभी राजधानी/ दुरंतो / पूरी तरह से वातानुकूलित (3 एसी क्‍लास वाली) ट्रेनों की 3 एसी श्रेणी में छह सीटों का आरक्षित कोटा महिला यात्रियों के लिए निर्धारित किया जाएगा
train+for+female+passengers
रेल मंत्रालय ने महिला यात्रियों की यात्रा को सुखद बनाने के उद्देश्‍य से ट्रेनों में आरक्षित सीटें निर्धारित करने का निर्णय लिया है। इस संदर्भ में, यह निर्णय लिया गया है कि सभी राजधानी / दुरंतो / पूरी तरह से वातानुकूलित (3 एसी क्‍लास युक्‍त) ट्रेनों के 3 एसी श्रेणी में छह सीटों का आरक्षित कोटा महिला यात्रियों के लिए निर्धारित किया जाना चाहिए। इसके लिए महिला यात्रियों की चाहे कोई भी आयु हो, वे अकेली यात्रा कर रही हों या समूह में यात्रा कर रही हों।

महिला यात्रियों को उपर्युक्त विषय के संबंध में निम्नलिखित सुविधाएं पहले से ही उपलब्ध हैं: -
  • मेल / एक्सप्रेस ट्रेनों में 6 स्लीपर श्रेणी की सीटों का आरक्षित कोटा महिला यात्रियों के लिए डिब्‍बे के तीसरे खंड़ में निर्धारित किया गया है। इसके लिए महिला यात्रियों की चाहे कोई भी आयु हो वे अकेली यात्रा कर रही हों या समूह में यात्रा कर रही हों।
  • गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेनों की 3 एसी श्रेणी में 6 सीटों का आरक्षित कोटा, महिला यात्रियों के लिए निर्धारित किया गया है। इसके लिए महिला यात्रियों की चाहे कोई भी आयु हो वे अकेली यात्रा कर रही हों या समूह में यात्रा कर रही हों।
  • आरक्षित स्‍लीपर वाली सभी ट्रेनों की स्लीपर श्रेणी में हर डिब्‍बे की 6 निचली बर्थ और एसी 3 टायर और एसी -2 टायर श्रेणियों के प्रत्‍येक डिब्‍बे में 3 निचली बर्थ वरिष्‍ठ नागरिकों 45 वर्ष या अधिक आयु की महिला यात्रियों और गर्भवती महिलाओं के लिए निर्धारित की गई हैं। राजधानी, दुरंतो और पूरी तरह से वातानुकूलित / एक्सप्रेस ट्रेनों के मामले में, 3 एसी श्रेणी में इस कोटे के तहत प्रत्‍येक डिब्‍बे में 4 निचली बर्थ महिला यात्रियों के लिए निर्धारित की गई हैं। जबकि सामान्य मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में प्रति डब्‍बा 3 निचली बर्थ निर्धारित हैं।
Previous Post
Next Post

0 comments:

Popular Posts