Featured Post

General Elections-2019 on 23 April - Third Phase

Press Information Bureau  Government of India Election Commission 22-April-2019 16:46 IST Third Phase of General Elections-2019 ...

Friday, November 23, 2018

Quadricycles क्‍वाड्रीसाइकिल

Notification Issued for Inclusion of Quadricycles as Non Transport Vehicles

Ministry of Road Transport and Highways has notified the insertion of the item ‘Quadricycle’ as a ‘non transport’ vehicle under the Motor Vehicles Act 1988. A Quadricycle is a vehicle of the size of a 3-wheeler but with 4 tyres and fully covered like a car. It has an engine like that of a 3-wheeler. This makes it a cheap and safe mode of transport for last mile connectivity.
Quadricycles+Car

Quadricycles were only allowed for transport usage under the Act, but now has been made usable for non transport also.

क्‍वाड्रीसाइकिल को गैर-परिवहन वाहन के रूप में शामिल करने के लिए अधिसूचना जारी 

परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने मोटर वाहन कानून 1988 के अंतर्गत ‘क्‍वाड्रीसाइकिल’ को एक ‘गैर-परिवहन’ वाहन के रूप में शामिल करने की अधिसूचना जारी की है। क्‍वाड्रीसाइकिल एक ऐसा वाहन है, जिसका आकार थ्री-व्हीलर जैसा है, लेकिन इसमें चार टायर हैं और कार की तरह पूरी तरह ढका हुआ है। इसमें थ्री-व्‍हीलर जैसा इंजन लगा हुआ है। अंतिम मील तक संपर्क कायम करने के लिए यह परिवहन का सस्‍ता और सुरक्षित जरिया है।

Quadricycles+Car
कानून के अंतर्गत क्‍वाड्रीसाईकिल की केवल परिवहन के लिए इस्‍तेमाल की इजाजत दी गई थी, लेकिन अब इसे गैर-परिवहन के लिए इस्‍तेमाल करने योग्‍य बना दिया गया है। 

क्वाड्रिसाइकिल (Quadricycle) के निजी इस्तेमाल को मंजूरी मिल गई है. परिवहन मंत्रालय ने इसको लेकर नोटिफिकेशन भी जारी किया है ऑटो कंपनी बजाज ऑटो ने अपनी क्वाड्रिसाइकिल क्यूट को लॉन्च कर दिया है.

क्‍या हैं Quadricycle-

ये कार नहीं है और ना ही आप इसकी कार से तुलना करें, क्योंकि ये एक नए सेगमेंट की गाड़ी है जिसे क्वाड्रिसाइकिल कहते हैं. दूसरे शब्दों में ऑटो रिक्शा का बेटर ऑप्शन है और बजाज क्यूट देश के पहले क्वाड्रिसाइकिल सेगमेंट की गाड़ी है. इसे लास्ट माइल ट्रांसपोर्टेशन के लिए डिजाइन किया गया है.

क्‍या हैं Quadricycle के नए नियम-

मिनिस्‍ट्री ऑफ रोड एंड ट्रांसपोर्ट के नोटिफिकेशन में कहा गया है कि quadricycle कैटगरी के व्‍हीकल एक्‍सप्रेस-वे पर नहीं चलेंगे, जबकि 4 लेन या उससे अधिक लेन वाले हाईवे पर ये व्‍हीकल 60 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक स्‍पीड पर नहीं चल पाएंगे. म्‍युनिस्पिल लिमिट (शहरों) वाली सड़कों और अन्‍य सड़कों पर quadricycle व्‍हीकल की मैक्सिमम स्‍पीड 50 किमी प्रति घंटा निर्धारित की गई है. इससे अधिक स्‍पीड होने पर ट्रैफिक पुलिस इन व्‍हीकल चालकों के खिलाफ ओवर स्‍पीड की कार्रवाई कर सकती है.

Quadricycle कैटगरी-

quadricycle यू‍रोपियन व्‍हीकल कैटगरी है, जो चार पहिया माइक्रो कार के रूप में जानी जाती है, जिसका वजन, पावर और स्‍पीड की मैक्सिमम लिमिट है. भारत में अभी इस कैटगरी की कोई कार नहीं है. बजाज ऑटो ने इस कैटगरी की Qute कार को बजाज ऑटो ने 2012 के दि‍ल्‍ली ऑटो शो में RE60 के नाम से पेश कि‍या था. भारत में quadricycle को मंजूरी नहीं होने के कारण यह मार्केट में नहीं उतर सकी थी. जून 2018 में केंद्र सरकार ने quadricycle की अलग कैटगिरी की घोषणा की है.

ग्रीन कार का दावा- 

कंपनी का दावा है कि‍ बाजार में मौजूद कि‍सी भी कार से यह 37 फीसदी हल्‍की है. हल्‍की होने की वजह से ईंधन बचाती है. यह शहरों की सड़कों को ध्‍यान में रखकर बनाई गई है. यह गाड़ी कम जगह लेती है और आसानी से मुड़ जाती है. इसकी माइलेज एक लीटर में 36 कि‍लोमीटर है और कि‍सी अन्‍य छोटी कार के मुकबले 37 फीसदी कम कार्बन का उत्‍सर्जन करती है. यह एक कि‍लोमीटर पर केवल 66 ग्राम CO2 छोड़ती है. इसमें वो सभी सेफ्टी फीचर्स हैं जो इस सेगमेंट की कारों में होते हैं. इस कार का टर्निंग रेडि‍यस केवल 3.5 मीटर है.



Previous Post
Next Post

0 comments:

Popular Posts