पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग ने ‘विश्व अंडा दिवस’ का आयोजन किया

पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग ने ‘विश्व अंडा दिवस’ का आयोजन किया 

      राज्य मंत्री श्री पुरूषोत्तम रूपाला ने मानव पोषण में उपयोगिता और मुर्गी पालक किसानों की आय बढ़ाने में अंडों के महत्व पर प्रकाश डाला

      केन्द्रीय पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग ने आज ‘विश्व अंडा दिवस’ का आयोजन किया। कृषि और किसान कल्याण राज्य मंत्री श्रीमती कृष्णा राज इस आयोजन की मुख्य अतिथि थीं। कृषि और किसान कल्याण राज्यमंत्री श्री पुरूषोत्तम रूपाला ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। किसान मुर्गी पालन संघों के सदस्यों, शोधार्थियों, प्रशासकों और मुर्गी पालक किसानों सहित लगभग 700 प्रतिभागियों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया। तकनीकी सत्रों में प्रसिद्ध वक्ताओं को मानव पोषण में अंडों के महत्व से संबंधित विषयों पर संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया गया था। इस सत्र में विचार-विमर्श का भी आयोजन किया गया।

पशुपालन+ डेयरी + मत्स्य +पालन +विभाग

     पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग के सचिव श्री तरूण श्रीधर ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मानव पोषण और मुर्गी पालक किसानों की आय बढ़ाने में अंडों के महत्व पर प्रकाश डाला। कृषि और किसान कल्याण राज्य मंत्री श्री पुरूषोत्तम रूपाला ने मुर्गी पालक उद्यमियों की सफलता की कहानियों के बारे में एक पुस्तक का भी विमोचन किया। राष्ट्रीय पशुधन मिशन के घटक मुर्गी पालन पूंजीगत उद्यमिता विकास और रोजगार सृजन के तहत पांच उद्यमी लाभार्थियों को मंजूरी आदेश भी वितरित किए।

      अंतर्राष्ट्रीय अंडा आयोग ने प्रत्येक प्रतिवर्ष अक्तूबर माह के दूसरे शुक्रवार को विश्व अंडा दिवस घोषित किया है। यह दिवस विश्व के सभी देशों में मनाया जाता है और अंडों के पोषक तत्वों के बारे में जागरूकता पैदा करने में मदद के लिए विशिष्ट अवसर प्रदान करता है।

     भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा अंडा उत्पादक देश है, लेकिन प्रति व्यक्ति उपलब्धता 69 अंडे प्रति व्यक्ति प्रतिवर्ष है। अंडा अधिक पोषण घनत्व वाला सम्पूर्ण पोषक खाद्य है। इसमें बहुत अधिक प्रोटीन होता है और यह विटामिन, आवश्यक एमिनो एसिड्स और खनिज तत्वों से युक्त है, जो शरीर के विकास और अच्छे स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं।

Comments

Popular Posts

Index of Eight Core Industries (Base: 2011-12=100) March, 2019

Index of Eight Core Industries (Base: 2011-12=100) February, 2019

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana